कुँवारी लड़कियों को मारकर उनके खून से नहाती थी ये महिला, जानिए कौन थी वो…..

दुनियाभर में कई ऐसे लोग मिलते हैं जो बहुत अजीब होते हैं। ऐसे में आज हम आपको उस महिला के बारे में बताने जा रहे हैं जिसके बारे में जानने के बाद आपके होश उड़ जाएंगे। जी दरअसल यह एक फीमेल सीरियर किलर थी जिनका नाम था एलिजाबेथ बाथरी। यह कुंवारी लड़कियों को मारकर उनके खून से नहाती थी। कहा जाता है एलिजाबेथ का नाता हंगरी के एक कुलीन और अमीर बाथरी घराने से था और वह सुंदर लड़कियों से नफरत थी। इसी के चलते वह उनकी हत्या करा देती थी। केवल यही नहीं बल्कि वह उनके खून से यह सोचकर नहाया भी करती थी कि इससे वह हमेशा युवा बनी रहेगी।

वह अपनी खूबसूरती को बनाए रखने के लिए 600 से ज्‍यादा सुंदर लड़कियों को मारकर उनके खून से नहायी थी। इसी के चलते एलिजाबेथ को इतिहास की सबसे खूंखार महिला कातिल कहा जाता है। एलिजाबेथ बाथरी के जैसे ही उनके माता-पिता और अन्य रिश्तेदार भी क्रूर थे। एलिजाबेथ बाथरी ने बचपन से ही अपने परिवार के लोगों को देखकर अत्याचार करना सीखा था। मात्र 15 साल कि उम्र में एलिजाबेथ की शादी फेरेंक II नाडास्डी नाम के एक व्यक्ति से हुई थी। उस समय 19 साल का फेरेंक तुर्की के खिलाफ हुए युद्ध में हंगरी का हीरो था। उस दौर में एलिजाबेथ अपने पति के सामने खूबसूरत लड़कियों को मारती थी। एलिजाबेथ ने लड़कियों पर अत्याचार करने उनकी हत्या करने के लिए नौकर रखे हुए थे।

क्यों नहाती थी लड़कियों के खून से- कहा जाता है एक बार एक लड़की एलिजाबेथ बाथरी को तैयार कर रही थी, उसी दौरान अचानक ही गलती से उससे एलिजाबेथ के बाल खिंच गए। यह देखकर एलिजाबेथ ने उसे ऐसा थप्‍पड़ मारा कि लड़की के चेहरे से खून निकलने लगा। उस दौरान एलिजाबेथ के हाथ में खून लग गया। कुछ देर बाद एलिजाबेथ ने महसूस किया कि जहां लड़की का खून लगा था, उसकी वहां की स्किन ज्यादा खूबसूरत हो गई थी। इसी घटना के बाद से ही उसने कुंवारी लड़कियों के खून से नहाना शुरू कर दिया।

Loading...
E-Paper