कॉपी किताब की जगह नन्हे-मुन्ने पढ़ने वाले बच्चे कर रहे बाल मजदूरी

- in उत्तरप्रदेश

हरदोई —बावन क्षेत्र अंतर्गत गांव बरसोहिया के बच्चों पर नहीं पड़ पाती श्रम विभाग की नजर । पेट पालने के लिए बारात में शामिल बैंड की रोड लाइट को उठाने को मजबूर । जिन हाथों में होनी चाहिए कलम वे ले रहे बाल मजदूरी का सहारा । सरकार के सर्व शिक्षा अभियान के दावे हवा हवाई । कक्षा- 1 से 4 तक के लगभग सात- आठ बच्चे रोजी- रोटी चलाने के लिए उठा रहे रोशनी लेकिन इनकी जिंदगी अंधेरे में ऐसे में देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पढ़ेगा इंडिया तभी तो आगे बढ़ेगा इंडिया के दावे मुंह चिढ़ाते नजर आ रहे हैं फिलहाल देखना यह होगा खबर चलने के बाद श्रम विभाग कितना सख्त होता है

Loading...
Loading...