ग्राम स्वराज अभियान के तहत 3387 गांवों में आज मुफ्त मिलेगा गैस कनेक्शन

लखनऊ। ग्राम स्वराज अभियान के तहत आज प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना दिवस का आयोजन करते हुए प्रदेश के सभी जिलों में चुने गए 3387 गांवों में महिलाओं को मुफ्त गैस कनेक्शन दिए जाएंगे। यह कनेक्शन अनुसूचित जाति-जनजाति, बीपीएल कार्डधारक बनवासी व अति पिछड़े वर्ग, प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) तथा अंत्योदय अन्न योजना में शामिल परिवारों की महिलाओं के नाम मिलेंगे।

खाद्य एवं रसद विभाग के मुताबिक उज्ज्वला योजना के तहत गैस कनेक्शन के लिए महिला लाभार्थियों को केवीआइसी के तौर पर तो कोई अभिलेख नहीं देना होगा लेकिन, बीपीएल कार्ड की फोटोकॉपी, अनुसूचित जाति-जनजाति का प्रमाण-पत्र या राशन कार्ड की फोटोकॉपी उपलब्ध करानी होगी। पूरी तरह ग्रामीण क्षेत्र की बीपीएल कार्डधारक ग्रहणियों व महिलाओं के लिए बनी इस योजना में गैस कंपनियां गैस कनेक्शन के रूप में सिलेंडर और रेगुलेटर मुफ्त देंगी।

यदि महिलाएं गैस चूल्हा लेना चाहेंगी तो यह उन्हें लोन या बिना लोन के उपलब्ध कराया जाएगा। चूल्हे की रकम सिलेंडरों की आपूर्ति में मिलने वाली सब्सिडी में समायोजित कर दी जाएगी। गैस कनेक्शन देने के लिए कंपनियां सभी जिलों के चयनित गांवों में शिविर लगाएंगी। इन उज्ज्वला ग्राम पंचायतों में शासन, जिला प्रशासन व गैस कंपनियों द्वारा नामित व्यक्तियों द्वारा कनेक्शन का वितरण किया जाएगा। कनेक्शन वितरण के दौरान पंचायत में सुरक्षा के लिहाज से ग्रामीण महिलाओं को गैस उपयोग के नियम व उपाय भी बताए जाएंगे, ताकि गैस का उपयोग सावधानी पूर्वक किया जा सके।

65 लाख कनेक्शन जारी

उज्ज्वला योजना के तहत प्रदेश में वर्ष 2022 तक 1.25 करोड़ गैस कनेक्शन वितरित करने का लक्ष्य रखा गया है। बीती 12 अपै्रल तक इसमें से 65 लाख गैस कनेक्शन दिए जा चुके थे। 

Loading...
E-Paper