लामबगड़ में मलबा आने से बंद रहा बदरीनाथ हाईवे, यमुनोत्री राजमार्ग पर भी आवाजाही शुरू….

Chardham Yatra 2022 : इस मानसून की शुरुआत से ही बदरीनाथ हाईवे लगातार अवरुद्ध हो रहा है। शुक्रवार की रात चमोली जिले में बारिश हुई जो शनिवार की सुबह रुक गई। वहीं बदरीनाथ हाईवे लामबगड़ में मलबा आने से तड़के बंद हो गया था। जिसे बाद में यातायात के लिए खोल दिया गया। यहां कई यात्री वाहन फंसे हुए थे और मार्ग खुलने का इंतजार कर रहे थे। मार्ग खुलने के बाद यात्री अपने गंतव्‍य के लिए रवाना हुए।
सिरोबगड़ में हाईवे खुला हाईवे सिरोबगड़ में शुक्रवार देर रात्रि को खुलने के बाद फिर शनिवार की सुबह छह बजे से मलबा आने से अवरुद्ध हो गया। जिसे सुबह करीब दस बजे आवाजाही के लिए सुचारू कर दिया गया। केदारनाथ यात्रा सुचारू है। वहीं यमुनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग भी खनेड़ा के पास अवरुद्ध हो गया था। जिसे दोपहर बाद आवाजाही के लिए खोल दिया गया। लामबगड़ में उभरे नए भूस्खलन जोन में मौसम साफ होने पर भी गिर रहे पत्थर बदरीनाथ हाईवे पर लामबगड़ में उभरे नए भूस्खलन जोन में साफ मौसम में भी पत्थर गिर रहे हैं। जिससे यहां पर पुलिस व एसडीआरएफ की देखरेख में वाहनों की आवाजाही हो रही है। पुलिस को दिनभर में कई बार ट्रैफिक रोक कर वनवे आवाजाही करनी पड़ रही है। वहीं, दो दिन पूर्व हुई वर्षा से टिहरी जिले में छह ग्रामीण मोटर मार्ग बंद पड़े हैं। जनपद पौड़ी में 12 ग्रामीण मोटर मार्ग बंद हैं। मार्गों को खोलने के लिए प्रशासन के आदेश पर संबंधित डिवीजनों ने जेसीबी मशीनें लगाई हैं। चमोली जिले में 12 ग्रामीण मोटर मार्ग बंद हैं। सिरोबगड़ स्लाइडिंग जोन में लगातार गिर रहा पहाड़ी से मलबा वहीं वर्षा के चलते बदरीनाथ हाईवे पर सिरोबगड़ स्लाइडिंग जोन में लगातार पहाड़ी से मलबा गिर रहा है। गत दिवस सुबह से ही हाईवे सिरोबगड़ में बंद हो गया। शुक्रवार देर रात आवाजाही सुचारू हुई, हालांकि शनिवार तड़के मार्ग दोबारा बंद हो गया। चालीस किमी अतिरिक्त सफर कर श्रीनगर पहुंच रहे वाहन छातीखाल से लगभग आठ किमी अतिरिक्त चलना पड़ रहा है, जबकि खेड़ाखाल से चालीस किमी अतिरिक्त सफर तय कर वाहन श्रीनगर गढ़वाल पहुंच रहे हैं। शुक्रवार को उपजिलाधिकारी रुद्रप्रयाग अपर्णा ढौंडियाल ने सिरोबगड़ पहुंचकर मौका मुआयना कर राष्ट्रीय राजमार्ग के अधिकारियों एवं ठेकेदारों को युद्ध स्तर पर कार्य कर यातायात को सुचारू करने के निर्देश दिए। मार्ग को खुलवाने का कार्य शुरू कर लिया गया है।
Loading...
E-Paper