जानिए नए साल में कैसे-कैसे संकल्प लेते हैं हम अपने आप से, और क्या होते हैं नतीजे!

विशेषज्ञों के अनुसार, आधे-अधूरे मन से सिर्फ रस्म अदायगी के लिए लिए गए रेजोल्यूशंस कभी पूरे नहीं होते। वेबसाइट स्टैटिस्टिकल ब्रेन डॉट कॉम द्वारा करवाए गए एक शोध में अमेरिका में हर वर्ष 41 फीसदी लोग नए वर्ष पर संकल्प लेते हैं, जबकि 42 फीसदी लोगों ने कभी भी नए वर्ष पर कोई भी संकल्प नहीं लिया। 

सिर्फ 9.2 फीसदी लोग अपने संकल्प को पूरा करने में सफल होते हैं और प्रत्येक वर्ष 42.4 फीसदी लोग इसे पूरा करने में असफल रहते हैं। सर्वे में यह भी पता चला कि इस वर्ष (2017) सबसे ज्यादा 21.4 फीसदी वजन कम करने/स्वास्थ्यवर्धक भोजन करने का संकल्प लोगों ने लिया। उसके बाद 12.3 फीसदी जीवन में सुधार, 8.5 फीसदी बेहतर वित्तीय निर्णय लेना, 7.1 फीसदी धूम्रपान छोड़ने, 6.2 फीसदी परिवार के साथ अधिक समय व्यतीत करने, 5.5 प्रतिशत एक्सरसाइज करने, 5.2 फीसदी दूसरों के लिए अच्छा काम करने, 4.3 फीसदी अपनी जिंदगी से प्यार करने और 4.1 फीसदी नई नौकरी तलाशने का संकल्प लोगों ने लिया। 

वर्ष 2012 में रैंडस्टैड वर्क मॉनीटर द्वारा किए गए एक सर्वे के अनुसार, भारत में 10 में से 8 कामकाजी लोगों ने नए वर्ष पर संकल्प लिए थे। इनमें से 83 फीसदी लोगों का कहना था कि उनका संकल्प मुख्य रूप से करियर से जुड़ा हुआ था। वहीं, संकल्प लेने में भारतीयों का विश्व स्तर पर भी प्रतिशत सबसे ज्यादा था।

Loading...
E-Paper