पेटीएम के शेयरों ने पिछले कुछ सत्रों में तेज गिरावट के बाद की वापसी, पढ़े पूरी खबर

वन97 कम्युनिकेशंस के स्वामित्व वाली पेटीएम के शेयरों ने पिछले कुछ सत्रों में तेज गिरावट के बाद शुक्रवार को वापसी की। विशेष रूप से शेयर हाल ही में 1,000 रुपये के निचले स्तर पर पहुंच गए थे। शुक्रवार को शेयर 8.2 फीसदी की तेजी के साथ 1,116 रुपये प्रति शेयर पर बंद हुआ। हालांकि ब्रोकरेज हाउस मैक्वेरी ने अपनी नई रिपोर्ट में शेयर के लिए अपने लक्ष्य मूल्य को 1,200 रुपये से घटाकर 900 रुपये कर दिया और अपनी अंडरपरफॉर्म रेटिंग को बरकरार रखा। इसके अलावा, कम राजस्व और उच्च कर्मचारी के साथ-साथ सॉफ्टवेयर लागत का हवाला देते हुए कंपनी ने वित्त वर्ष 22 के दौरान फाइनेंशियल नतीजों में 16-27 प्रतिशत के नुकसान का अनुमान लगाया है। 18 नवंबर, 2021 को एक्सचेंजों पर सूचीबद्ध होने के बाद कंपनी के शेयर 29 प्रतिशत डाउन हो गए। यह भारतीय एक्सचेंजों पर सबसे खराब शुरुआत करने वालों में से एक स्‍टॉक था। एनएसई के आंकड़ों से पता चलता है कि वर्तमान में पेटीएम की मूल कंपनी वन97 कम्युनिकेशंस का कुल बाजार पूंजीकरण 72,350 करोड़ रुपये है। बता दें कि देश में डिजिटल माध्यम से भुगतान के बढ़ते चलन के बीच पेटीएम पेमेंट्स बैंक ने दिसंबर 2021 के दौरान यूपीआई (यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस) के जरिये 92.61 करोड़ लेन-देन में सर्वाधिक रकम प्राप्त करने वाला बैंक बन गया है। भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (एनपीसीआई) की तरफ से जारी आंकड़ों के अनुसार सार्वजानिक क्षेत्र के भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) इस अवधि के दौरान यूपीआई के जरिये सबसे अधिक राशि भेजने वाले बैंक के रूप में उभरा है। पेटीएम पेमेंट्स बैंक लिमिटेड (पीपीबीएल) ने दावा किया कि वह एक महीने में 92.6 करोड़ से अधिक यूपीआई लेनदेन की उपलब्धि हासिल करने वाला देश का पहला बैंक बन गया है। वही यूपीआई के जरिये 66.49 करोड़ लेनदेन के साथ एसबीआई बैंक दूसरा सबसे बड़ा बैंक बनकर उभरा है।
Loading...
E-Paper