WTC Final: दूसरी बार टीम इंडिया का चैम्पियन बनना तय…

भारत और न्यूजीलैंड के बीच वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप (WTC) के फाइनल का मजा बारिश ने किरकिरा कर दिया है. साउथैम्पटन में हो रहे इस खिताबी मुकाबले में बारिश हावी रही है. वैसे तो मैच का आज (सोमवार) चौथा दिन, लेकिन खेल सिर्फ डेढ़ दिन का हो पाया है.

 पहला दिन बारिश की भेंट चढ़ गया था. दूसरे दिन खराब रोशनी के कारण खेल को तय समय से पहले रोकना पड़ा. मैच के दूसरे दिन 64.4 ओवरों का खेल हो पाया था. अब तक सिर्फ तीसरे दिन ही पूरा खेल हो पाया है. बारिश की वजह से चौथे दिन का खेल भी मुश्किल लग रहा है. 

फैन्स को इस मुकाबले का बेसब्री से इंतजार था, लेकिन बारिश ने खेल खराब कर दिया. साउथैम्पटन के मौसम को देखते हुए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट काउंसिल (ICC) ने रिजर्व डे (23 जून) रखा है. लेकिन अब तक के मैच को देखते हुए इसके इस्तेमाल की संभावना कम है. 

इस अहम मुकाबले का आज चौथा दिन है और सिर्फ एक टीम की ही पहली पारी पूरी हुई है. टीम इंडिया ने अपनी पहली पारी में 217 रन बनाए हैं. वहीं, न्यूजीलैंड की टीम ने तीसरे दिन स्टंप्स तक 2 विकेट के नुकसान पर 101 रन बनाए. वह टीम इंडिया से अब भी 116 रन पीछे है. 

अगर चौथे दिन का खेल भी नहीं होता है तो इस मैच का ड्रॉ होना तय है. ऐसे में भारत और न्यूजीलैंड को वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप का संयुक्त विजेता घोषित किया जाएगा. 

ये दूसरा मौका होगा जब टीम इंडिया आईसीसी की कोई ट्रॉफी शेयर करेगी. वह 2002 में भी ऐसा कर चुकी है. तब भारत और श्रीलंका को आईसीसी चैम्पियन्स ट्रॉफी का संयुक्त विजेता घोषित किया गया था. 

कोलंबो में खेले गए 2002 आईसीसी चैम्पियन्स ट्रॉफी का फाइनल बारिश से प्रभावित रहा था. इस मुकाबले में श्रीलंका ने 50 ओवरों में 7 विकेट के नुकसान पर 222 रन बनाए थे. 

टीम इंडिया 223 रनों के लक्ष्य की ओर बढ़ रही थी. उसने 8.4 ओवरों में 1 विकेट के नुकसान पर 38 रन बना लिये थे. सहवाग और सचिन क्रीज पर थे. लेकिन बारिश श्रीलंकाई टीम के लिए राहत बनकर आई और अंत में उसे टीम इंडिया के साथ आईसीसी की ये ट्रॉफी शेयर करने का मौका मिला.

Loading...
E-Paper