कर्नाटक में चुनावी पारा पहुँचा चरम पर, मोदी के बाद अब योगी भी करेंगे प्रचार

कर्नाटक में मतदान में अब महज 10 दिन बचे हैं और गुजरते दिन के साथ चुनावी माहौल गरम होता जा रहा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी कर्नाटक पहुंच रहे हैं और 6 दिन में ताबड़तोड़ 2 दर्जन सभाएं करेंगे. सत्ता में वापसी की कोशिशों में जुटी भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने प्रधानमंत्री मोदी और अमित शाह के चुनाव प्रचार में उतरने के बाद कर्नाटक में अपने तीसरे स्टार प्रचारक योगी आदित्यनाथ को भी झोंकने की तैयारी कर ली है. दूसरी ओर, गुरुवार को ही कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी चुनाव प्रचार के लिए कर्नाटक जाने वाले हैं.

2 दर्जन से ज्यादा चुनावी सभा

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ गुरुवार से कर्नाटक के चुनावी दौरे पर रहेंगे और 10 मई तक दो दर्जन से ज्यादा चुनावी सभाओं को संबोधित करेंगे. योगी आदित्यनाथ का चुनावी दौरा तय हो चुका है. भटकल और तटीय कर्नाटक के चुनावी जैसे संवेदनशील इलाकों में योगी की सभाएं ज्यादा लगाई गई हैं, ये वो इलाके हैं जो न सिर्फ सांप्रदायिक रूप से संवेदनशील हैं बल्कि यहां नाथ संप्रदाय के लोगों की तादात भी काफी ज्यादा है.

इस चुनाव प्रचार के दौरान उनकी कोशिश रहेगी कि साधु, संतों और महंतों को भी अपने पक्ष में किया जाए. वह जनसभाओं के अलावा कई साधुओं से भी मिलेंगे. योगी आदित्यनाथ गौड़ा, लिंगायत और नाथ संप्रदाय की साधू और महंतों से अलग से मिलेंगे और उनका आशीर्वाद भी लेंगे. अपने इस यात्रा के दौरान वह चिकमंगलूर के मठ में रुकेंगे. 

सिद्धारमैया के साथ नोक-झोंक लोकप्रिय हुए योगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एक दिनों में कई सभाओं को संबोधित करेंगे. पिछले दिनों आई इस खबर के बाद कि गोरखपुर-फूलपुर उपचुनाव में हार और उन्नाव रेप कांड के बाद योगी आदित्यनाथ कर्नाटक चुनाव से किनारे लगा दिए गए हैं, लेकिन बीजेपी ने एक बार फिर अपने पुराने चेहरे पर दांव लगाया है.

योगी आदित्यनाथ और मुख्यमंत्री सिद्धारमैया की नोक-झोंक भी पिछले कुछ महीनों में चर्चा में रही है. इन दोनों के बीच ट्विटर वार भी हो चुका है, ऐसे में योगी आदित्यनाथ कर्नाटक के चुनाव प्रचार में जाने-माने चेहरे बनकर उभरे हैं और बीजेपी हर हाल में इनका पूरा इस्तेमाल कर लेना चाहती है. अब देखना होगा कि चुनाव प्रचार के आखिरी दिनों में योगी आदित्यनाथ बीजेपी के लिए इस दक्षिणी राज्य में कितना कमाल कर पाते हैं. राज्य में 12 मई को मतदान होगा जबकि परिणाम 15 को आएगा.

Loading...
E-Paper