अफ्रीकी देश माली में राष्ट्रपति चुनाव 29 जुलाई को, इस कारण 5 सालों से चुनाव हो रहा था स्थगित

पश्चिमी अफ्रीकी देश माली में आगामी दो महीने के भीतर राष्ट्रपति चुनाव होंगे। माली सरकार ने 29 जुलाई को होने वाले राष्ट्रपति चुनाव की घोषणा की पुष्टि कर दी है। एक आधिकारिक सूचना के हवाले से ये खबर आई है। वहीं इसके साथ ही स्थानीय चुनाव भी साल के अंत तक कराए जाने की सूचना है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अफ्रीकी देश में राष्ट्रपति चुनाव 2013 से ही बार-बार स्थगित किये जा रहे हैं। इसके पीछे की वजह इस्लामिक चरमपंथ है। लेकिन राष्ट्रपति इब्राहिम बोउबकर और प्रधानमंत्री सोउमेलु बोउबे मेगा ने महीनों पहले ये वादा किया था कि राष्ट्रपति चुनाव इस साल गर्मियों में कराए जायेंगे।

जानकारी के मुताबिक, चुनाव के पहले चरण के लिए प्रचार 7 जुलाई से शुरु होकर 27 जुलाई को खत्म हो जायेंगे। काउंसिल ऑफ मिनिस्टर के हवाले से ये खबर सामने आई। कहा जा रहा है कि दूसरे चरण के चुनाव की अगर जरुरत पड़ी तो 12 अगस्त को चुनाव करवाए जायेंगे। 

 केटा (प्रेसीडेंट हाउस) ने अभी तक अपने उम्मीदवारों की घोषणा नहीं की है लेकिन सरकार के दर्जनों लोगों का कहना है कि वे वर्तमान राष्ट्रपति के पक्ष में ही खड़े रहेंगे। आपको बता दें कि अल-कायदा से जुड़े इस्लामवादी चरमपंथियों ने 2012 से ही माली के उत्तरी रेगिस्तान को अपने कब्जे में ले रखा है। हालांकि माली की सेना, फ्रांसीसी सैनिकों और संयुक्त राष्ट्र मिशन का अभी भी देश के कुछ इलाकों पर थोड़ा नियंत्रण है, जिन्होंने इस क्षेत्र को जिहादियों से अलग करने के उद्देश्य से और वहां शांति स्थापित करने के उद्देश्य से मई और जून 2015 में कई बार हमले भी किए हैं। 

Loading...
E-Paper