वजन घटाने में कारगर है कलौंजी का तेल, जाने इसके और फायदे

Loading...

कलौंजी लगभग हर घर में मौजूद रहने वाली चीज़ है। कलौंजी बहुत से रोगों में बहुत तेज़ी से फायदा करती हैं आज उनमे से कुछ रोगों का उपचार कलौंजी के द्वारा बात रहे हैं निचे दिए हुए पोस्ट में आप जानेंगे कलौंजी के फायदे विभिन्न रोगों में कलौंजी तेल का कैसे उपयोग करना है

कलौंजी तेल बालों को झड़ने से बचाता है

नींबू के रस को अपने सिर पर मालिश करें और 20 मिनट के लिए छोड़ दें। हर्बल शैंपू से धो लें। जब बाल शुष्क हो जाये तो कलोंजी तेल का उपयोग करें। बाल गिरने की रोकथाम में सकारात्मक परिणाम प्राप्त करने के लिए 30 दिनों के लिए जारी रखें।

तनाव में

एक चाय की प्याली में एक बड़ी चम्मच कलौंजी का तेल डाल कर लेने से मन शांत हो जाता है और तनाव के सारे लक्षण ठीक हो जाते हैं।

दर्द में

कलौंजी के तेल को हल्का गर्म करके जहां दर्द हो वहां मालिश करें और एक बड़ी चम्मच तेल दिन में तीन बार लें. 15 दिन में बहुत आराम मिलेगा। कलौंजी तेल सिरदर्द के उपचार के लिए: सिरदर्द कलौंजी तेल के मसाज से ठीक किया जा सकता है। सिरदर्द को कम करने के लिए माथे पर कलौंजी तेल का मसाज करना चाहिए। सिरदर्द के इलाज के लिए इस तेल को कान के पास भी रगड़ा जा सकता है। सिरदर्द को कम करने के लिए कलौंजी तेल (आधा चम्मच) दिन में दो बार पिये, बहुत लाभकारी सिद्ध होगा। नियमित रूप से कलौंजी तेल के लेने से माइग्रेन का इलाज करने में भी सहायक है।

वजन घटायें कलौंजी तेल से

मोटापा कम करने के आसान उपाए में कलोंजी को अपनाया जा सकता है। इसके लिए कलौंजी तेल (आधा चम्मच) और हनी (2 चम्मच) के मिश्रण को गुनगुने पानी के साथ लिया जा सकता है। इस मिश्रण को एक दिन में तीन बार लिया जा सकता है।

चेहरा सुंदर बनाए कलौंजी तेल से 

ओलिव तेल (50 ग्राम) और कलौंजी तेल (50 ग्राम) का मिश्रण तैयार करे। नाश्ते से पहले इस मिश्रण के ½ चम्मच ले। यह आपकी त्वचा को चमक दमक बनाने में मददगार साबित होगी। ताजगी और सौंदर्य पाने के लिए इस फार्मूला को एक सप्ताह तक जारी रखें।

health benefits in hindi,kalonji black seeds,benefits in hindi

मधुमेह रोकथाम के लिए कलौंजी तेल

कलौंजी तेल डायबिटीज की रोकथाम के लिए बहुत उपयोग और फ़ायदेमंद है। सबसे पहले काली चाय (1कप) और कलौंजी तेल (½ चम्मच ) का एक मिश्रण तैयार करें। यह सुबह और बिस्तर पर जाने से पहले इस मिश्रण को लें । एक माह के भीतर सकारत्मक परिणाम आने लगेंगे।

पिम्पल्स हटाने के लिए कलौंजी तेल

मीठे नीबू का रस (1 कप) और कलौंजी तेल (आधा चम्मच) के संयोजन से एक मिश्रण बनाए। सुबह और रात में बिस्तर पर जाने से पहले चेहरे पर लगाएं । यह त्वचा की चमक को बढ़ाता है तथा पिम्पल्स और किसी अन्य काले धब्बों से बचाता है। सिरका (1 कप) और कलौंजी तेल (आधा चम्मच) का मिश्रण सुबह और बिस्तर पर जाने से पहले चहरे पर लगाये। इस से सफ़ेद या काले धब्बे को रोका जा सकता है।

कैंसर 

कलौंजी का तेल शरीर में कैंसर की कोशिकाओं को विकसित होने से रोकता है और उन्हें नष्ट करता है. यह कैंसर रोगियों में स्वस्थ कोशिकाओं की रक्षा करता है। कैंसर से पीड़ित व्यक्ति को कलौंजी के तेल की आधी बड़ी चम्मच को एक गिलास अंगूर के रस में मिलाकर दिन में तीन बार लेना चाहिए।

सफेद दाग और कुष्ठ रोग 

शरीर पर सफेद दाग और कुष्ठ रोग हो जाने पर 15 दिन तक रोज़ाना पहले सेब का सिरका शरीर पर मलें फिर कलौंजी का तेल मलें ।

बालों की समस्या करे दूर

बालों में नींबू का रस अच्छी तरह से लगाए. 15 मिनट बाद बालों को शैंपू कर लें व अच्छी तरह धोकर सुखा लें। सूखे बालो में कलौंजी का तेल लगाएं। एक सप्ताह के उपचार के बाद बालों का झड़ना बंद हो जाएगा।

Loading...