हाथरस में तोड़ी गई अंबेडकर की प्रतिमा, क्षेत्र में छाया तनाव

हाथरस। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की गंभीर चेतावनी के बाद भी प्रदेश में संविधान निर्माता डॉ. भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा के साथ तोड़-फोड़ जारी है। कल इलाहाबाद व सिद्धार्थनगर के बाद आज हाथरस में डॉ. भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा को क्षतिग्रस्त किया गया है। इससे क्षेत्र के लोगों में आक्रोश के बाद माहौल में काफी तनाव है। 

प्रदेश में महापुरुषों की प्रतिमाओं को क्षतिग्रस्त करने की आंच हाथरस तक पहुंच चुकी है। हाथरस जंक्शन के गांव नगला ब्राह्मण में डॉ. भीमराव आंबेडकर की प्रतिमा का क्षतिग्रस्त कर दिया गया। यहां पर अराजक तत्वों ने माहौल बिगाडऩे की कोशिश की है। अंबेडकर अनुयायियों में आक्रोश फैल गया है। 

डॉ. अंबेडकर की प्रतिमा क्षतिग्रस्त होने की सूचना पर एसडीएम व सीओ के साथ पुलिस बल मौके पर है। यहां पर इस घटना के बाद से लोगों में काफी आक्रोश है। प्रशासन की टीम इनको समझाने में लगी है। एसपी सुशील घुले का कहना है कि घटना को अंजाम देने वालों की तलाश की जा रही है। आंबेडकर पार्क में नई प्रतिमा रखवाने की तैयारी की जा रही है। 

Loading...

24 घंटे के अंदर तीसरी घटना

शुक्रवार रात इलाहाबाद में झूसी के त्रिवेणीपुरम में डॉ. बाबा साहब भीमराव अंबेडकर की मूर्ति को अराजक तत्वों ने तोड़ दिया था। वहीं सिद्धार्थनगर में भी अंबेडकर की मूर्ति तोड़ी गई। स्थानीय लोगों अपराधी के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए प्रदर्शन किया।इससे पहले भी कई बार बाबा साहब अंबेडकर की मूर्ति को निशाना बनाया गया था। एटा के थाना जलेसर कस्बे में अंबेडकर प्रतिमा को अराजक तत्वों ने तोड़ दिया था। प्रतिमा टूटी हुई देखकर जाटव समाज के लोग भड़क उठे। सूचना मिलते ही पुलिस की टीम मौके पर पहुंची।आजमगढ़ में भी संविधान निर्माता बाबा साहब अंबेडकर की मूर्ति को निशाना बनाया गया था। थाना अहरौला के गांव राजापट्टी में लगी बाबा साहब की तोड़ दी गई थी।

Loading...