मायावती के बयान पर जेटली का पलटवार, बोले- सार्वजनिक जीवन में अनफ‍िट हो चुकी हैं बसपा सुप्रीमो

Loading...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बसपा प्रमुख मायावती (Mayawati) के विवादित बयान के मसले पर भाजपा ने आक्रामक रुख अख्तियार कर लिया है। वरिष्‍ठ भाजपा नेता अरुण जेटली ने सोमवार को कहा कि मायावती प्रधानमंत्री बनने के लिए दृढ़ हैं। उनका शासन और सियासी नैतिकता हमेशा ही निम्‍नतम स्‍तर पर रही है। अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर उनके इस विवादित बयान से उजागर हो गया है कि बसपा सुप्रीमो सार्वजनिक जीवन में पूरी तरह अनफ‍िट हो चुकी हैं।

दरअसल, मायावती ने सोमवार को कहा कि ‘मुझे मालूम चला है कि भाजपा में विवाहित महिलाएं अपने पतियों को मोदी के नजदीक जाते देखकर घबराती रहती हैं कि कहीं मोदी अपनी औरत की तरह उन्‍हें भी उनके पतियों से अलग ना करवा दे। भाजपा के लोग महिलाओं का सम्मान नहीं करते। यहां तक कि राजनीतिक स्वार्थ के लिए पीएम मोदी ने अपनी पत्नी को भी छोड़ दिया। पीएम मोदी अगर राजनीतिक लाभ के लिए अपनी पत्नी को छोड़ सकते हैं तो फिर देश की मां व बहनों को वह कैसे न्याय दे सकते हैं। वह इनको कैसे सम्मान देंगे।’

जेटली ने मायावती के बयान की निंदा करते हुए कहा कि अब विवादित टिप्‍पणी पर तथाकथित वाम उदारवादियों ने चुप्‍पी क्‍यों साध ली है। जेटली ने पश्चिम बंगाल में प्रशासन की ओर से जाधवपुर में भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह को रैली की इजाजत नहीं देने पर तृणमूल कांग्रेस को भी घेरा। उन्‍होंने कहा कि राज्‍य में विपक्षी दलों के कार्यकर्ताओं की हत्‍याएं हो रही हैं, राजनीतिक दलों के उम्‍मीदवार मारे जा रहे हैं, बूथ कैप्‍चरिंग हो रही है। यहां तक कि विपक्ष के नेताओं को रैलियां करने से रोका जा रहा है। पश्चिम बंगाल सरकार यह कदम लोकतंत्र की हत्‍या है।

Loading...