मेहुल चोकसी ने CBI को फिर लिखी चिट्ठी, कहा- तबीयत खराब, नहीं आ सकता भारत

पंजाब नेशनल बैंक घोटाले में मुख्य आरोपियों में से एक गीताजंलि जेम्स के प्रमुख मेहुल चोकसी ने एक बार फिर सीबीआई को चिट्ठी लिख जांच के लिए पेश होने से इनकार कर दिया है. चोकसी ने लिखा है कि उनका स्वास्थ्य ठीक नहीं है, इसी कारण वह जांच में सहयोग नहीं कर सकते हैं. इसके अलावा चोकसी ने कहा है कि वह भारत में उनको खतरा भी हो सकता है.

चोकसी ने अपनी चिट्ठी में लिखा है कि अभी तक मेरा पासपोर्ट सस्पेंड ही है. किसी भी पासपोर्ट ऑफिसर ने उनसे संपर्क नहीं किया है, जो कि एक चिंता का विषय है. चोकसी ने लिखा कि मैं बाहर हूं, लेकिन इससे पहले भी मैंने आपको चिट्ठी के जरिए जवाब लिखा है.

मेहुल ने लिखा कि लगातार उनके बिजनेस पर फर्क पड़ा है, जिसके कारण मेरे कर्मचारी व अन्य लोग उनसे खफा हैं. चोकसी ने कहा है कि उनका डायमंड R यूएस, स्टेलर डायमंड, सोलर एक्सपोर्ट कंपनी से कोई लेना-देना नहीं है.

चोकसी ने बताया कि वह भारत के बाहर अपने बिजनेस के कारण बिज़ी है और सभी मुद्दों को सुलझाने की कोशिश कर रहे हैं. तबीयत खराब होने के कारण जांच में शामिल नहीं हो सकते हैं. डॉक्टरों ने सलाह दी है कि वह 4 से 6 महीने तक ट्रैवल ना करें.

आपको बता दें कि मामले में अन्य आरोपी हीरा कारोबारी नीरव मोदी भी कई बार चिट्ठी लिखकर जांच में शामिल ना होने की बात कह चुके हैं. पंजाब नेशनल बैंक घोटाला पहले 11400 करोड़ रुपए का था, लेकिन बाद में रकम बढ़ी और 12700 करोड़ रुपए पूरी रकम पहुंच गई थी. गौरतलब है कि इस मामले में ईडी समेत अन्य सुरक्षा एजेंसियों की कार्रवाई लगातार जारी है, अभी तक इस मामले में ईडी कई करोड़ रुपए की संपत्ति दर्ज कर चुकी है.
Loading...
E-Paper