फिल्म पद्मावत का विरोध चरम पर, इटावा में मॉल में फेंका गया पेट्रोल बम

- in उत्तरप्रदेश, प्रदेश

सुप्रीम कोर्ट से रिलीज की हरी झंडी मिलने के बाद भी देश भर में संजय लीला भंसाली की फिल्म फिल्म पद्मावत का विरोध चरम पर है। आज फिल्म रिलीज होनी है, इससे पहले ही इटावा में एक मॉल में बम फेंका गया है। कानपुर में तो अखिल भारतीय अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा ने पद्मावत की अभिनेत्री दीपिका पादुकोण की नाक काटने वाले को पांच करोड़ रुपए का ईनाम देने के बयान का समर्थन किया।

फिल्म पद्मावत का विरोध चरम पर, इटावा में मॉल में फेंका गया पेट्रोल बम

इटावा में फिल्म पद्मावत के विरोध में बाबा दि माल में दो युवकों ने पेट्रोल बम फेंका। इसके साथ ही वहां पर गार्ड रामनरेश को भी पीटा गया। लोगों ने मॉल के बाहर के शीशे पर पथराव कर तोड़ दिया। बाइक सवार लोग फायरिंग करने के बाद भाग गये। अब पुलिस इन युवकों की तलाश में लगी है। 

Loading...

उधर कानपुर में क्षत्रिय महासभा ने कहा कि फिल्म की हीरोइन दीपिका पादुकोण की नाक काटने वाले को पांच करोड़ रुपए की ईनामी राशि देने के लिए इसके लिए पैसा भी जुटाया जाएगा। महासभा ने कल नवीन मार्केट स्थित शिक्षक पार्क में धरना-प्रदर्शन किया। संस्था के राष्ट्रीय संगठन मंत्री गजेंद्र सिंह राजावत ने कहा कि प्रधानमंत्री पद्मावत फिल्म का समर्थन कर रहे, इसी कारण देश में ऐसी विकट परिस्थितियां पैदा हो गईं। प्रधानमंत्री चाहते तो इसे रोक सकते थे। ऐसा नहीं होने पर देश का सम्मान बचाने को कानून हाथ में लेना पड़ रहा है। 

क्षत्रिय महासभा के अध्यक्ष गजेंद्र सिंह राजावत ने बताया कि कानपुर वासियों से इनाम के तौर पर करोड़ों रुपए की धनराशि एकत्र की गई है और जो भी दीपिका पादुकोण की नाक काट कर लाएगा उसे यह इनाम की धनराशि दी जाएगी। क्षत्रिय महासभा के कार्यकर्ताओं ने शहर के शिक्षक पार्क में फिल्म पर प्रतिबंध की मांग को लेकर धरना-प्रदर्शन भी किया था। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अखिलेश कुमार मीणा ने बताया कि फिल्म के प्रदर्शन को देखते हुए शहर में सुरक्षा के जबरदस्त इंतजाम बढ़ा दिए गए हैं।

 
Loading...