दस फरवरी से शुरू होगा संचारी रोग नियंत्रण अभियान

सीतापुर। मुख्य विकास अधिकारी संदीप कुमार की अध्यक्षता में संचारी रोग नियंत्रण अभियान के सफल संचालन हेतु अंतर्विभागीय बैठक की गई। जिसमें अभियान के सहयोगी विभिन्न विभागों को कोआर्डिनेशन के संबंध में दिशा निर्देश दिये गये। बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ आर के नैय्यर द्वारा अवगत कराया गया कि संचारी रोगों तथा दिमाग़ी बुखार पर नियंत्रण तथा इनके त्वरित एवम सुचारू उपचार हेतु शासन के निर्देशानुसार जनपद में 10 से 28 फरवरी तक संचारी रोग नियंत्रण अभियान चलाया जायेगा।
बैठक में वेक्टर नियंत्रण, साफ-सफाई, कचरा निस्तारण, जल भराव रोकने तथा शुद्ध पेयजल की उपलब्धता, विद्यालयो में संवेदीकरण तथा जनसंवाद द्वारा जागरूकता उत्पन्न करने आदि विभिन्न गतिविधियों पर विशेष जोर देते हुए सभी विभागों को व्यवहार परिवर्तन तथा प्रचार-प्रसार की व्यापक योजना बनाने के निर्देश दिए गए। ताकि जन सामान्य को इस अभियान का लाभ मिल सके। प्रधान अपने ग्राम में अभियान के नोडल होंगे तथा 10 फरवरी से प्रभात फेरी का आयोजन कर संचारी रोग नियंत्रण अभियान का शुभारंभ करेंगे।
ग्राम स्तर पर जन-जागरूकता व साफ-सफाई के संबंध में ग्राम प्रधान पूर्ण सहयोग करेंगे। शिक्षा विभाग को निर्देश दिए गए कि इस अभियान में संचारी रोगों पर बच्चो को विशेष जानकारी दे। बच्चों के साथ सामुदायिक गतिविधयां, प्रभात फेरी, साबुन से हाथ धोना, शौचालय का प्रयोग आदि पर आयोजित करे। कृषि विभाग खेतों में मच्छरों के प्रजनन को रोकने हेतु नई तकनीक व जानकारी जनसमुदाय को उपलब्ध कराए। सभी सहयोगी विभागों को उनके द्वारा संचारी रोग नियंत्रण अभियान में किये जाने वाले कार्यो की ग्रामवार कार्ययोजना तैयार कर स्वास्थ्य विभाग को उपलब्ध कराए। संचारी रोगों के नियंत्रण तथा रोकथाम में स्वास्थ्य, ग्राम्य विकास, पंचायती राज एवम शिक्षा विभाग की सबसे महत्वपूर्ण भूमिका है। इस संबंध में स्वास्थ्य विभाग के सभी ब्लॉक अधीक्षकों को निर्देश दिए गए कि वे ब्लॉक स्तर पर प्रधानों, अध्यापको, आशाओ की इस अभियान के सम्बंध में अलग-अलग विशेष संवेदीकरण बैठक करे। बैठक में अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ सुरेंद्र सिंह, जिला एपिडेमिलोगिस्ट डॉ विवेक सचान, यूनीसेफ प्रतिनिधि सहित सहयोगी विभागों के अधिकारी व प्रतिनिधि उपस्थित रहे ।
Loading...
E-Paper