आईपीएल में RCB की ताकत ही उसकी कमजोरी है

इस साल आईपीएल मेगा-नीलामी में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने उम्मीद जताई कि भारतीय कप्तान विराट कोहली और एबी डिविलियर्स को बरकरार रखते हुए इस बार वे कुछ बेहतर कर गुजरेंगे. IPL की सबसे मजबूत मानी जाने वाली रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर कभी भी अपने ताकत के अनुरूप प्रदर्शन नहीं कर पाई है.

आइये जानते है सितारों से सजी इस टीम कि ताकत और कमियों को-

ताकत – आरसीबी के पास हमेशा से एक मजबूत बल्लेबाजी लाइन-अप रही है और इस सीजन में भी उसकी ताकत बेटिंग लाइन उप ही है. ब्रेंडन मैकुलम, क्विंटन डी कॉक, मनन वोहरा और मनदीप सिंह, पार्थिव पटेल, विराट कोहली और एबी डिविलियर्स जैसे वर्ल्ड क्लास बेट्समेन इनके खेमे में मौजूद है. 

कमजोरी- उमेश यादव और युजवेन्द्र चहल को छोड़कर टीम में अंतरराष्ट्रीय मानकों की गेंदबाजी फौज नहीं है. बॉलर्स की अनुभवहीनता टीम को भारी पड़ सकती है. 

उम्मीदे- युजवेन्द्र चहल ने आरसीबी के लिए शानदार प्रदर्शन किया है. टीम को उनसे इसी प्रदर्शन को लगातार दोहराने की उम्मीद है. वही कोहली से भी टीम को बड़ी आशा है. 

 टीम असंतुलित सी लगती है – पांच से ज्यादा सलामी बल्लेबाजों के होने का मतलब है कि कप्तान विराट कोहली का काम आसान हो सकता है, मगर यह बात टीम में असंतुलन भी पैदा करती है. एक बात ये भी है कि सितारों की भरमार भी इस टीम के लिए असंतुलन पैदा करने का काम कई सालों से कर रही है.

Loading...
E-Paper