पद्मावत रिलीज पर बयानबाजी शुरू, दिग्विजय बोले- धार्मिक भावनाओं को आहत करके न बने फिल्में

- in Main Slider, राष्ट्रीय

लंबे समय से विवादों में चल रही फिल्म पद्मावत भारी सुरक्षा के बीच रिलीज हो गई है, लेकिन लगातार विरोध कर रही करणी सेना का प्रदर्शन अभी जारी है। भारी सुरक्षा के इंतजाम के बीच कई जगहों पर तोड़फोड़ की खबर आ रही है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पटना में विरोध के चलते फिल्म रिलीज नहीं की जा रही है। पटना के सिनेमाघरों मालिकों ने ऐलान करते हुए कहा कि वे इस फिल्म को रिलीज नहीं करेंगे। बताया जा रहा है कि बिहार के बाकी शहरों में फिल्म नहीं दिखाई जाएगी।

पद्मावत रिलीज पर बयानबाजी शुरू, दिग्विजय बोले- धार्मिक भावनाओं को आहत करके न बने फिल्में

पद्मावत के रिलीज पर बयानों का दौर शुरू हो गया है और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह का कहा है कि जो ऐसी फिल्में नहीं बननी चाहिए जो धार्मिका भावनाओं को आहत करे। पद्मावत विवाद पर केंद्रीय मंत्री वीके सिंह का कहना है कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता इतिहास को तोड़फोड़ करने की इजाजत नहीं देती, तो जो विरोध कर रहे हैं उनके साथ बैठ के इसको सुलझाया जाए। जब चीजें सहमति से नहीं होती हैं तो फिर उसमें गड़बड़ होती है। मध्यप्रदेश में भी पद्मावत के विरोध की आग फैली हुई है। प्रदर्शनकारियों ने कार को आग लगा दी है और इस आरोप में दो लोगों को हिरासत में लिया गया है।

Protesters set fire to a car during a protest against #Padmavaat in Bhopal yesterday, Police say 2 people have been taken into custody. #MadhyaPradeshpic.twitter.com/d0Iek2fvbY

Loading...

— ANI (@ANI) January 25, 2018

वहीं पुणे के एक सिनेमा हॉल के मालिक किशोर गनतारा ने कहा कि यहां पर शांति है और पुलिस भी तैनात है।

 Its peaceful.Current show housefull. Police presence is here, our own security is also in place. All good as of now: Kishore Ganatra, E-Square cinema hall owner #Pune#Padmavaat pic.twitter.com/U2f14SlqXi
— ANI (@ANI) January 25, 2018

मुंबई में अलग-अलग जगहों से करणी सेना के 50 समर्थकों को हिरासत में लिया गया है। गुजरात में मंगलवार को अहमदाबाद में मल्टीप्लेक्स में हुई तोड़फोड़ के मामले में भी 50 लोग हिरासत में लिए गए हैं। इस बीच, मल्टीप्लेक्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया ने कहा है कि राजस्थान, गुजरात, मध्य प्रदेश और गोवा में फिल्म का प्रदर्शन नहीं होगा। यह संस्था 75 फीसदी मल्टीप्लेक्स मालिकों का प्रतिनिधित्व करती है। गुजरात के थियेटर मालिकों ने विवाद खत्म होने तक किसी भी मल्टीप्लेक्स और सिंगल स्क्रीन सिनेमाघर में फिल्म न प्रदर्शित करने का फैसला किया है। वहीं, राजस्थान में राजपूत समुदाय की 1,900 महिलाओं के जौहर करने को तैयार होने से एलान के बाद करणी सेना की चित्तौड़गढ़ इकाई के प्रमुख को गिरफ्तार कर लिया गया है।

 
Loading...