सीएम हेल्पलाइन में लड़कियों से हुई बदसलूकी

कई लड़कियां हुईं बेहोश

चार महीने से वेतन न मिलने की कर रही थीं मांग

लखनऊ।
गुरुवार को अंतर्राष्‍ट्रीय महिला दिवस पर जहां मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने प्रदेश भर की महिलाओं को उनके उत्कृष्ट कार्य के लिए सम्मानित किया तो वहीं उनके ही हेल्पलाइन में कार्यरत युवतियों का उत्पीड़न हो रहा है। शुक्रवार को सीएम हेल्पलाइन में युवतियों से अभद्रता की गई। टॉर्चर के कारण लड़कियां बेहोश तक हो गईं। उन्हें लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां पुलिस से भी उनकी भिड़ंत हुई। बता दें कि गोमतीनगर के विभूतिखंड में साईबर हाईट में सीएम हेल्पलाइन संचालित है। बीपीओ स्योरविन नामक कंपनी इसका काम देख रही है। इसके अंडर में लड़कियों समेत कई टेलीकॉलर सीएम हेल्पलाइन में काम कर रहे हैं।

Loading...

ट्रेनर-सुपरवाइजर ने की सादे कागज पर साइन कराने की कोशिश

लड़कियों ने बताया कि तीन-चार महीने से उन्‍हें वेतन नहीं मिला। इसके लिए कई बार मांग उठाई गई, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। शुक्रवार की सुबह हद तो तब हो गई जब हेल्पलाइन की टेलीकॉलर 20 लड़कियों को एक कमरे में बंद कर दिया गया। लड़कियों ने आरोप लगाया कि उनके ट्

Loading...