गांधी प्रतिमा पर उठी आसाराम बापू की रिहाई की मांग

लखनऊ। अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर ‘महिला उत्थान मंडल’ की सदस्याओं ने भारी संख्या में जीपीओ हज़रतगंज के गांधी प्रतिमा पर जोरदार प्रदर्शन कर आशाराम को रिहा करने की मांग की और अपनी मांगों को लेकर जिलाधिकारी महोदय को चार पन्नों का ज्ञापन सौंपा गया। वहीं मंडल की प्रदेश अध्यक्षा डॉ. विमला मिश्रा ने कहा कि शासन-प्रशासन व पुलिस सब इच्छाशक्ति व पूरी मुस्तैदी से दिन-रात परिश्रम कर रहे हैं परन्तु फिर भी आज महिलाओं की बहुत बुरी दशा है, महिला कानून भी बनाए गए परन्तु बिना सोचे-समझे इसी का अत्यंत घातक रूप है पास्को कानून।

वहीं यह भी कहा कि पास्को कानून में किसी भी लड़की के आरोप लगाने से किसी भी निर्दोष व्यक्ति को जेल भेज दिया जाता है जिससे उस व्यक्ति का जीवन व प्रतिष्ठा धूल में मिल जाती है, साथ ही उसके कुटुंब की असंख्य महिलाएं भयंकर अपमान व दुःख का दंश झेलने को मजबूर हो जाती हैं। वही यह भी कहा कि हमारा संविधान कहता है कि ‘व्यक्ति तब तक निर्दोष है जब तक कि उसका दोष सिद्ध नहीं हो जाता। जबकि इस काले कानून पास्को के कारण करोड़ो व्यक्तियों द्वारा पूजित महापुरुषों को भी महान अन्या

Loading...
Loading...