रिश्वत लिए जाने के आरोप में तहसीलदार तथा राजस्व लिपिक किये गये निलम्बित

- in उत्तरप्रदेश, प्रदेश

रिश्वत लिए जाने के आरोप में सीतापुर जिले की सिधौली तहसील के तहसीलदार सुभाष मणि त्रिपाठी तथा राजस्व लिपिक संजय भार्गव को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया गया है, जबकि तहसील के तत्कालीन उपजिलाधिकारी प्रेम प्रकाश को विशेष परिनिन्दा प्रविष्टि दी गई है। 

यह जानकारी आज यहां देते हुए एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि यह कार्रवाई मुख्यमंत्री की भ्रष्टाचार के विरुद्ध जीरो टाॅलरेन्स की नीति के तहत की गई है। उन्होंने बताया कि इस प्रकरण को लेकर कल 03 मार्च को कुछ समाचार चैनलों पर एक वीडियो वायरल हुआ, जिसका संज्ञान लेते हुए मुख्यमंत्री ने आरोपित अधिकारियों एवं कर्मचारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई किए जाने के निर्देश दिए। 

Loading...

उल्लेखनीय है कि इस वीडियो में तहसीलदार सिधौली के आवासीय परिसर में राजस्व लिपिक को हैसियत प्रमाण पत्र जारी करने सम्बन्धी पत्रावलियों पर अग्रिम कार्यवाही करने के लिए रिश्वत लेते हुए दिखाया गया है। इस वीडियो में प्रत्यक्ष रूप से राजस्व लिपिक की सत्यनिष्ठा संदिग्ध प्रतीत होती है और साथ ही तहसीलदार की भी संलिप्तता प्रतीत होती है। इस संलिप्तता के दृष्टिगत राजस्व लिपिक तथा तहसीलदार को तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया गया है तथा दोनों के खिलाफ अनुशासनात्मक/विभागीय कार्रवाई की जा रही है। प्रवक्ता ने बताया कि इस प्रकरण में सिधौली तहसील के तत्कालीन उपजिलाधिकारी का शिथिल पर्यवेक्षण विदित होता है, जिसके चलते उन्हें विशेष परिनिन्दा प्रविष्टि दी गई है। राजस्व लिपिक के खिलाफ एफ0आई0आर0 दर्ज कराने के निर्देश भी दिए गए हैं। 

Loading...