ट्रंप ने बंदूक से होने वाली हिंसा का स्थाई समाधान तलाशने का संकल्प लिया

- in अन्तर्राष्ट्रीय

वाशिंगटन: राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अमेरिका में बढ़ रही बंदूक से होने वाली हिंसा का स्थाई हल तलाश करने तथा पिछले सप्ताह फ्लोरिडा में हुई गोलीबारी जैसी घटनाओं को रोकने का आज संकल्प लिया. इस घटना में 14 छात्रों सहित 17 लोगों की जानें गईं थीं. ट्रंप ने हमले में बचे लोगों, अभिभावकों तथा मारे गए लोगों के परिजन से कहा, ‘‘ हम सबकुछ सीखना चाहते हैं जो हम सीख सकते हैं. यह लंबे समय से चली आ रही व्यवस्था है और हमें इसे हल करना है. इसे मिल कर हल करना अच्छा है.’’

इस कार्यक्रम में कोलंबीन हाई स्कूल और सैंडी हुक एलीमेंट्री स्कूल में गोलीबारी की घटना के बाद गठित एडवोकेसी ग्रुप्स के प्रतिनिधि भी मौजूद थे. उप राष्ट्रपति माइक पेंस तथा शिक्षा मंत्री बेटसी डीवोस भी ट्रंप का संबोधन सुनने के लिए मौजूद थे. राष्ट्रपति ने कहा, ‘‘ आपने असाधारण पीड़ा झेली है और हम नहीं चाहते कि कोई और उस पीड़ा से गुजरे। यह सही नहीं होगा.’’

इस दौरान स्कूल हमले में मारी गयी एक छात्रा के पिता ए. पोलॉक ने कहा कि अब वक्त आ गया है कि देश एकजुट हो जाए. एक छात्र सैम जेफ ने स्कूल की घटना के बाद दोबारा स्कूल जाने, यहां तक की पार्क जाने में भी भय लगने की बात कही. ट्रंप ने सभी की बातों को गंभीरता के साथ सुना और लोगों से पूछा कि क्या उनके पास स्कूल में गोलीबारी की घटनाओं को रोकने के लिए कोई सुझाव हैं.

Loading...

तभी कार्यक्रम में मौजूद एक व्यक्ति ने सुझाव दिया कि स्कूल में टीचर, प्रशासकों जिनके पास भी हथियार रखने का लाइसेंस है वे कक्षाओं में हथियार लॉक करके सुरक्षित रख सकते हैं, और उन्हें प्रशिक्षण दिया जा सकता है. ऐसा प्रतीत हुआ कि ट्रंप को यह सुझाव पसंद आया.

Loading...
E-Paper