गणेश जी को विदा करते हुए भावुक हो गए बच्चे

- in प्रदेश, मध्यप्रदेश

दस दिनी गणेशोंत्सव का अनंत चतुर्दशी के दिन समापन हो गया। सभी जगह धूमधाम से बप्पा को विदाई दी गई, लेकिन सतवास के महालक्ष्मी कॉलोनी में इस क्षण ने बच्चों को भावुक कर दिया। 10 दिनों तक धूमधाम से पूजा करने के बाद जब बच्चों ने गणेशजी को विसर्जन के लिए जाता देखा तो वे रो पड़े।दस दिनी गणेशोंत्सव का अनंत चतुर्दशी के दिन समापन हो गया। सभी जगह धूमधाम से बप्पा को विदाई दी गई, लेकिन सतवास के महालक्ष्मी कॉलोनी में इस क्षण ने बच्चों को भावुक कर दिया। 10 दिनों तक धूमधाम से पूजा करने के बाद जब बच्चों ने गणेशजी को विसर्जन के लिए जाता देखा तो वे रो पड़े।  माता-पिता ने उन्हें समझाया लेकिन अपने फ्रेंड गणेशा की विदाई में उनके आंसू नहीं थम रहे थे। इस दृश्य को देख कालोनी के सभी बड़े उनकी श्रद्धा पर अभिभूत हुए। पहली बार कॉलोनी में सार्वजनिक रूप से गणेश प्रतिमा की स्थापना की गई थी। दस दिनों तक यहां आरती के साथ विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन भी हुआ।

माता-पिता ने उन्हें समझाया लेकिन अपने फ्रेंड गणेशा की विदाई में उनके आंसू नहीं थम रहे थे। इस दृश्य को देख कालोनी के सभी बड़े उनकी श्रद्धा पर अभिभूत हुए। पहली बार कॉलोनी में सार्वजनिक रूप से गणेश प्रतिमा की स्थापना की गई थी। दस दिनों तक यहां आरती के साथ विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन भी हुआ।

Loading...
Loading...