सेना प्रमुख बिपिन रावत ने बोला आतंकियों के खिलाफ फिर सर्जिकल स्ट्राइक जरूरी

- in Main Slider, बड़ी खबर, राष्ट्रीय

सेना प्रमुख बिपिन रावत ने पाकिस्तान की सरकार और वहां की सेना को लेकर सोमवार को बड़ा बयान दिया है. आजतक से बात करते हुए उन्होंने कहा कि जब तक पाकिस्तान में सेना और ISI सरकार के अधीन नहीं आती तब तक बॉर्डर पर हालात नहीं सुधरेंगे.सेना प्रमुख बिपिन रावत ने पाकिस्तान की सरकार और वहां की सेना को लेकर सोमवार को बड़ा बयान दिया है. आजतक से बात करते हुए उन्होंने कहा कि जब तक पाकिस्तान में सेना और ISI सरकार के अधीन नहीं आती तब तक बॉर्डर पर हालात नहीं सुधरेंगे.  इतना ही नहीं बिपिन रावत ने ये भी कहा कि जिस तरह के हालात चल रहे हैं उनको देखते हुए आतंकवादियों के खिलाफ एक और सर्जिकल स्ट्राइक की ज़रूरत है.  घाटी में लगातार पुलिसकर्मियों को आतंकवादियों द्वारा निशाने पर लिया जा रहा है. इस पर उन्होंने कहा कि पुलिस को टारगेट किया जाना आतंकियों की निराशा को दिखाता है. सेना घाटी में अपना ऑपरेशन चालू रखेगी. उन्होंने कहा कि कश्मीर में आम आदमी मुश्किलें झेल रहा है, वहीं अलगाववादियों के रिश्तेदार विदेश में मौज कर रहे हैं.  उन्होंने कहा कि आज कश्मीर का युवा नौकरी की तलाश में है, लेकिन अलगाववादी और आतंकी उन्हीं नौजवानों से नौकरी छोड़ आतंकी बनने को कह रहे हैं.  सेना प्रमुख बोले कि हम इस बात पर जोर दे रहे हैं कि किस तरह अपनी सेना को आधुनिक बनाया जाए. समय के अनुसार जल्द ही हम पूरी तरह से आधुनिक फौज को तैयार करना होगा.  उन्होंने कहा कि जरूरी नहीं है कि फौज में हथियार बढ़ाए जाएं बल्कि अभी जो भी मौजूद हैं उन्हें ही आधुनिक कर दिया जाए. हम काफी चीज़ों में सुधार कर रहे हैं. बिपिन रावत ने कहा कि हम लोग साइबर के मामलों से भी निपटने के लिए काम कर रहे हैं.  आपको बता दें कि इससे पहले भी सेना प्रमुख ने सर्जिकल स्ट्राइक के मुद्दे पर बयान दे चुके हैं. हाल ही में उन्होंने कहा था कि सर्जिकल स्ट्राइक सरप्राइज देने का हथियार है. इसे सरप्राइज ही रहने दें. वह भारतीय सेना के पाकिस्तान के खिलाफ एक और सर्जिकल स्ट्राइक किए जाने के सवाल पर जवाब दे रहे थे.

इतना ही नहीं बिपिन रावत ने ये भी कहा कि जिस तरह के हालात चल रहे हैं उनको देखते हुए आतंकवादियों के खिलाफ एक और सर्जिकल स्ट्राइक की ज़रूरत है.

घाटी में लगातार पुलिसकर्मियों को आतंकवादियों द्वारा निशाने पर लिया जा रहा है. इस पर उन्होंने कहा कि पुलिस को टारगेट किया जाना आतंकियों की निराशा को दिखाता है. सेना घाटी में अपना ऑपरेशन चालू रखेगी. उन्होंने कहा कि कश्मीर में आम आदमी मुश्किलें झेल रहा है, वहीं अलगाववादियों के रिश्तेदार विदेश में मौज कर रहे हैं.

उन्होंने कहा कि आज कश्मीर का युवा नौकरी की तलाश में है, लेकिन अलगाववादी और आतंकी उन्हीं नौजवानों से नौकरी छोड़ आतंकी बनने को कह रहे हैं.

Loading...

सेना प्रमुख बोले कि हम इस बात पर जोर दे रहे हैं कि किस तरह अपनी सेना को आधुनिक बनाया जाए. समय के अनुसार जल्द ही हम पूरी तरह से आधुनिक फौज को तैयार करना होगा.

उन्होंने कहा कि जरूरी नहीं है कि फौज में हथियार बढ़ाए जाएं बल्कि अभी जो भी मौजूद हैं उन्हें ही आधुनिक कर दिया जाए. हम काफी चीज़ों में सुधार कर रहे हैं. बिपिन रावत ने कहा कि हम लोग साइबर के मामलों से भी निपटने के लिए काम कर रहे हैं.

आपको बता दें कि इससे पहले भी सेना प्रमुख ने सर्जिकल स्ट्राइक के मुद्दे पर बयान दे चुके हैं. हाल ही में उन्होंने कहा था कि सर्जिकल स्ट्राइक सरप्राइज देने का हथियार है. इसे सरप्राइज ही रहने दें. वह भारतीय सेना के पाकिस्तान के खिलाफ एक और सर्जिकल स्ट्राइक किए जाने के सवाल पर जवाब दे रहे थे.

Loading...