आगामी 29 सितंबर 2018 को एएमयू में सर्जिकल स्ट्राइक डे मनाने के लिए एमएचआरडी की ओर से यूजीसी ने भेजा पत्र, एएमयू छात्र संघ ने इस पत्र पर जताया विरोध

एएमयू के छात्रसंघ अध्यक्ष मशकूर अहमद उस्मानी का कहना है कि एमएचआरडी की ओर से एएमयू समेत सभी यूनिवर्सिटीज को एमएचआरडी की ओर से एक पत्र जारी किया गया है जिसमें कहा गया है कि सभी यूनिवर्सिटीज में 29 सितंबर को सर्जिकल स्ट्राइक डे मनाया जाए ऐसा पहली बार नहीं हुआ है कि देश में सर्जिकल स्ट्राइक हुई हो इससे पहले भी बीसीओ बार जब भी जरूरत पड़ी सर्जिकल स्ट्राइक की गई है.एएमयू के छात्रसंघ अध्यक्ष मशकूर अहमद उस्मानी का कहना है कि एमएचआरडी की ओर से एएमयू समेत सभी यूनिवर्सिटीज को एमएचआरडी की ओर से एक पत्र जारी किया गया है जिसमें कहा गया है कि सभी यूनिवर्सिटीज में 29 सितंबर को सर्जिकल स्ट्राइक डे मनाया जाए ऐसा पहली बार नहीं हुआ है कि देश में सर्जिकल स्ट्राइक हुई हो इससे पहले भी बीसीओ बार जब भी जरूरत पड़ी सर्जिकल स्ट्राइक की गई है चाहे फिर देश में एनडीए की सरकार रही हो, यूपीए की सरकार या कांग्रेस की सरकार रही हो,,,ऐसा होता रहा है, लेकिन इस तरह सर्जिकल स्ट्राइक को फ्रेम देना कहीं न कहीं आर्मी पर सवालिया निशान खड़ा करता है, कहीं न कहीं ऐसा लगता है कि सरकार अपने रूरक्षा, रेप जैसे तमाम मुद्दों पर असफल रही है, इसी लिए इस तरह से के मामलों को लेकर आ रही है और इंस्टिट्यूशन पर थोपने का कार्य कर रही है, हमारे लिए स्वतंत्रता दिवस सबसे महत्व्पूर्ण है जिसे हम सभी मान सम्मान के साथ मनाते हैं, तो फिर ये सर्जिकल स्ट्राइक डे क्यों मनाएं, अगर इनको सर्जिकल स्ट्राइक डे मनाना है तो संघ की शाखाओं में जाकर मनाएं, जिससे कि जिनके अंदर अभी देश भक्ति की भावनाएं नहीं आई हैं, उनके अंदर भी देश भक्ति भावनाएं आएं, साथ ही साथ वो (संघ) देश का झंडा भी फहराएं, एएमयू में स्वतंत्रता दिवस और गणतंत्र दिवस मनाते आएं हैं बड़े ही हर्षोउल्लास से मनाते रहेंगे,,,ये सर्जिकल स्ट्राइक हमारी समझ से परे है

चाहे फिर देश में एनडीए की सरकार रही हो, यूपीए की सरकार या कांग्रेस की सरकार रही हो,,,ऐसा होता रहा है, लेकिन इस तरह सर्जिकल स्ट्राइक को फ्रेम देना कहीं न कहीं आर्मी पर सवालिया निशान खड़ा करता है, कहीं न कहीं ऐसा लगता है कि सरकार अपने रूरक्षा, रेप जैसे तमाम मुद्दों पर असफल रही है, इसी लिए इस तरह से के मामलों को लेकर आ रही है और इंस्टिट्यूशन पर थोपने का कार्य कर रही है, हमारे लिए स्वतंत्रता दिवस सबसे महत्व्पूर्ण है जिसे हम सभी मान सम्मान के साथ मनाते हैं

Loading...

तो फिर ये सर्जिकल स्ट्राइक डे क्यों मनाएं, अगर इनको सर्जिकल स्ट्राइक डे मनाना है तो संघ की शाखाओं में जाकर मनाएं, जिससे कि जिनके अंदर अभी देश भक्ति की भावनाएं नहीं आई हैं, उनके अंदर भी देश भक्ति भावनाएं आएं, साथ ही साथ वो (संघ) देश का झंडा भी फहराएं, एएमयू में स्वतंत्रता दिवस और गणतंत्र दिवस मनाते आएं हैं बड़े ही हर्षोउल्लास से मनाते रहेंगे,,,ये सर्जिकल स्ट्राइक हमारी समझ से परे है

Loading...