शाह की रैली से संकट टला, CM से मुलाकात के बाद जाटों ने बदला फैसला

चंडीगढ़: हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर, केंद्रीय मंत्री बीरेंद्र सिंह और वरिष्ठ बीजेपी नेता अनिल जैन के साथ मुलाकात के बाद जाट संगठन ने 15 फरवरी को जींद में आयोजित होने वाली रैली को वापस ले लिया है . इसकी घोषणा रविवार देर रात की गई.

ऑल इंडिया जाट आरक्षण संघर्ष समिति के अध्यक्ष यशपाल मलिक के नेतृत्व में दिल्ली में जाट प्रतिनिधि दल ने इन नेताओं से मुलाकात की थी. इस रैली को वापस लेने से हरियाणा की सत्तारूढ़ दल बीजेपी को राहत मिली है क्योंकि इसी दिन बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह शहर में एक बाइक रैली में हिस्सा लेंगे. मुख्यमंत्री खट्टर ने कल मलिक को बातचीत करने का आमंत्रण दिया था.

Loading...

बातचीत के बाद मलिक ने कहा कि हरियाणा सरकार ने जाट आंदोलन के दौरान फरवरी, 2016 में भड़की हिंसा के संबंध में दर्ज सभी मामलों को वापस लेने का फैसला किया है. उन्होंने कहा कि बातचीत के दौरान आरक्षण और दर्ज मामले के बारे में विस्तार से चर्चा की गई.

Loading...
E-Paper