DMRC ने शुरू की ये नई सुविधा, अब आसानी से कर सकेंगे किराये का भुगतान

नई दिल्ली: अगर आप भी दिल्ली मेट्रो से सफर करते हैं तो आपके लिए काम की खबर है. अब मेट्रो का सफर करना अब पहले की तुलना में कही अधिक आसान हो जाएगा. अब आपको मेट्रो से सफर के लिए टोकन लेने या स्मार्टकार्ड रिचार्ज कराने की जरूरत नहीं रहेगी. अब मेट्रो में सफर के लिए आप किराये का भुगतान अपने बैंक के डेबिट या क्रेडिट कार्ड से आसानी से कर सकेंगे. दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन की तरफ से इसके लिए लेटेस्ट ऑटोमेटिक फेयर मशीनें लगाई जा रही हैं. आइए जानते हैं इसके बारे में.

44 स्टेशन पर नई एएफसी

इस नए नियम के तहत आप स्मार्ट कार्ड के अलावा, डेबिट और क्रेडिट कार्ड, नियर फील्ड कम्युनिकेशन (एनएफसी), क्यूआर कोड-आधारित टिकटिंग मोबाइल फोन और पेपर क्यूआर टिकट के माध्यम से मेट्रो किराये दे सकेंगे. आपको बता दें कि इसके लिए डीएमआरसी ने चौथे चरण के दौरान 44 स्टेशनों पर स्वचालित किराया संग्रह यानी AFC सिस्टम इंस्टॉल करना शुरू कर दिया है. यानी जल्दी ही आपको ये सुविधा मिलेगी. इसके अलावा मौजूदा स्टेशन पर लगे एएफसी गेटों को भी अपडेट किया जाएगा.

एयरपोर्ट लाइन पर है ये सुविधा

डीएमआरसी के एक अधिकारी ने बताया कि नए सिस्टम में कैशलेस और ह्यूमन एरर फ्री ट्रांजेक्शन के अलावा सेवाओं के अधिक डिजिटलीकरण को बढ़ावा मिलेगा. मेट्रो कॉर्पोरेशन एएफसी फर्मवेयर को भी अपग्रेड कर रहा है. इससे यात्री अपने क्रेडिट या डेबिट कार्ड को स्मार्ट कार्ड के रूप में इस्तेमाल कर सकेंगे. राजधानी में अभी सिर्फ एयरपोर्ट एक्सप्रेस लाइन पर ही यह सुविधा है.

सभी बैंक कार्ड होंगे एक्सेप्ट 

आपको बता दें कि अभी कोच्चि और नागपुर जैसे कुछ महानगरों में यह सुविधा है. लेकिन यहां पर विशेष बैंकों के डेबिट/क्रेडिट कार्ड ही लिए जाते हैं. डीएमआरसी की प्रणाली रुपे पोर्टल के माध्यम से सभी बैंकों से लेनदेन स्वीकार करेगी. नई प्रणाली मेट्रो नेटवर्क में अधिक ‘किराया क्षेत्र’ बनाने में भी मदद करेगी.

इन तरीके से दे सकेंगे किराया

1. स्मार्ट कार्ड
2. नेशनल कॉमन मॉबिलिटी कार्ड
3. मोबाइल आधारित एनएफसी (Near Field Communication Ticketing)
4. मोबाइल QR कोड आधारित टिकट
5. पेपर QR टिकट

अब स्मार्ट कार्ड से कटेगी पेनल्टी

डीएमआरसी के प्रवक्ता ने बताया कि इस नई व्यवस्था के तहत स्मार्ट कार्ड के जरिए पेनाल्टी की कटौती भी संभव होगी. फिलहाल एक यात्री को बाहर निकलते समय बढ़े हुए मूल्य का भुगतान करने की आवश्यकता होती है. इसके लिए यात्री को कस्टमर सर्विस विंडो पर जाना पड़ता है. इस नए सिस्टम में पेनल्टी का भुगतान स्मार्ट कार्ड के जरिये ही किया जा सकेगा.

आपको बता दें कि डीएमआरसी फेज- I और II के स्टेशनों पर कस्टमर सर्विस में टिकटिंग मशीनों के साथ पॉइंट ऑफ सेल (पीओएस) टर्मिनल को भी इंटीग्रेट करेगा. इसमें स्मार्ट कार्ड को पीओएस से भी रिचार्ज किया जा सकेगा.

Loading...
E-Paper