पंजाब नेशनल बैंक घोटाले के आरोपी मेहुल चोकसी पर कसा शिकंजा, जारी किया गैर-जमानती वारंट

जांच एजेंसियों ने पंजाब नेशनल बैंक घोटाले के आरोपी और नीरव मोदी के मामा मेहुल चोकसी पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है. प्रवर्तन निदेशालय की अपील पर मुंबई के स्पेशल पीएमएलए कोर्ट ने मेहुल चोकसी के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी किया है.

करीब 13,600 करोड़े के पीएनबी घोटाले में दूसरी एजेंसियों के साथ मिलकर जांच कर रहे प्रवर्तन निदेशालय ने मेहुल चोकसी की धरपकड़ के लिए मुंबई के स्पेशल पीएमएलए कोर्ट से अपील की थी, जिसके बाद कोर्ट ने मेहुल चोकसी के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी किया. मेहुल के अलावा पांच और आरोपियों के खिलाफ भी यह वारंट जारी हुआ है. प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने पिछले हफ्ते ही मेहुल चोकसी समेत कुछ 14 आरोपियों के खिलाफ जांच रिपोर्ट और सबूत पेश किए थे.

बता दें कि इससे पहले सीबीआई कोर्ट ने मेहुल चोकसी के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी किया था. जिसके बाद मेहुल चोकसी ने अपने खिलाफ गैर जमानती वारंट रद्द करने के लिए सीबीआई कोर्ट से गुहार लगाई थी. उसकी दलील थी कि वह भारत नहीं आ सकता क्योंकि यहां जिस तरह से मॉब लिंचिंग का माहौल है, उसकी वजह से उसे अपनी हत्या का डर है.

सीबीआई कोर्ट ने अप्रैल और मई में मेहुल चोकसी के खिलाफ दो गैर जमानती वारंट जारी किए थे. मेहुल से कहा गया था कि वह पीएनबी जालसाजी केस में कोर्ट के सामने पेश न होने के लिए वह 10 वजह बताए. सीबीआई के एक्शन के बाद अब ईडी की अपील पर भी मेहुल चोकसी के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी कर दिया गया है. जिससे मेहुल चोकसी पर जांच एजेंसियों का शिकंजा और कस गया है.

Loading...
E-Paper