सपा ने कुनबा बढ़ाओ अभियान की बढाई रफ्तार, पूर्व सांसद कैलाशनाथ समेत कई नेता हुए शामिल

- in राजनीति

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के राज्यसभा चुनाव के दौरान बहुजन समाज पार्टी में बड़ी बगावत के बाद समाजवादी पार्टी ने कुनबा बढ़ाओ अभियान को गति देना शुरू कर दिया है। सोमवार को पूर्व सांसद कैलाशनाथ सिंह यादव और उनके पुत्र सुनील यादव समेत अन्य दलों के आधा दर्जन से अधिक नेता समाजवादी पार्टी की सदस्यता ग्रहण करेंगे, इनमें बहुजन समाज पार्टी और कांग्रेस नेताओं की संख्या अधिक है।

यूपी मिशन 2022 की तैयारी में जुटी समाजवादी पार्टी स्वयं को भारतीय जनता पार्टी के विकल्प के तौर पर सिद्ध करने का अभियान छेड़े हुए है। बहुजन समाज पार्टी के करीब आधा दर्जन विधायकों की बगावत और अखिलेश यादव से उनकी मुलाकात के बाद सपाइयों द्वारा बसपा को भाजपा की ‘बी’ टीम सिद्ध करने के लिए धुंआधार प्रचार किया जा रहा है। बागी विधायकों से इसी प्रकार के बयान दिलाए जा रहे हैं। सपाइयों को उम्मीद है कि इस मुहिम से बसपा का दलित-मुस्लिम गठजोड़ कमजोर होगा। इसका लाभ मुस्लिमों की सपा के पक्ष के लामबंदी के रूप में मिलेगा।

समाजवादी पार्टी के राष्टीय अध्यक्ष अखिलेश यादव सोमवार को दिन में करीब 12:30 बजे बहुजन समाज पार्टी के पूर्व सांसद कैलाश नाथ यादव तथा उनके पुत्र सुनील यादव समेत बसपा के कई नेताओं को समाजवादी पार्टी की सदस्यता दिलाएंगे। इनके साथ समाजवादी पार्टी से बांदा से सांसद रहे बालकुमार पटेल तथा पूर्व विधायक राम सिंह पटेल की घर वापसी होगी। यह भी अपने समर्थकों से साथ समाजवादी पार्टी में शामिल होंगे। सोमवार को साइकिल पर सवारी करने वालों में पूर्व सांसद बाल कुमार पटेल का नाम भी है।

Loading...

उत्तर प्रदेश विधानसभा उपचुनाव से पूर्व कांग्रेस की बड़ी नेता और पूर्व सांसद अन्नू टंडन को शामिल करके समाजवादी पार्टी ने यह संदेश देने की कोशिश की है कि वह गैर भाजपाइयों की पहली पंसद है।

खजांची का जन्मदिन आज : नोटबंदी के दौरान बैंक की लाइन में खड़ी मां को प्रसव होने पर जन्मे बालक खजांची का जन्मदिन समाजवादी पार्टी कार्यालय में सोमवार को मनाया जाएगा। इस दौरान समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव भी मौजूद रहेंगे।

Loading...