प्रधानमंत्री की सांसदों से अपील, आम जनता को सरल भाषा में समझाएं बजट

- in Main Slider, राजनीति, राष्ट्रीय

नई दिल्ली| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को कहा कि उनकी सरकार का ध्येय सामाजिक न्याय है और केंद्रीय बजट में इस बात का पूरा ध्यान रखा गया है. उन्होंने कहा कि इसमें कमजोर वर्गों के कल्याण के बारे में केवल बातें नहीं कही गई है बल्कि इन पर अमल करने का ठोस मार्ग भी प्रस्तुत किया गया है.

संसद में 2018-19 का आम बजट पेश होने के बाद शाम में बीजेपी संसदीय दल की बैठक को संबोधित करते हुए मोदी ने पार्टी सांसदों से बजट के जनोन्मुखी कदमों एवं पहल को जनता के बीच रखने को कहा. बैठक के बाद संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार ने संवाददाताओं से कहा कि प्रधानमंत्री ने बजट को ऐतिहासिक दस्तावेज बताया और कहा कि यह ‘सबका साथ सबका विकास’ के सरकार के लक्ष्य को पूरा करने की दिशा में महत्वपूर्ण पहल है .

प्रधानमंत्री ने पार्टी सांसदों से जरूरतमंद लोगों की कल्याण योजनाएं लोगों तक पहुंचाने को कहा. उन्होंने सांसदो से अगले कुछ दिनों तक अपने क्षेत्र में जाने और लोगों से सामान्य भाषा में बजट के बारे में चर्चा करने को कहा. इस संदर्भ में उन्होंने पार्टी सांसद हुकुमदेव नारायण सिंह का उल्लेख किया. प्रधानमंत्री ने बजट को एक त्योहार बताया और पार्टी सांसदों से लोगों से जुड़ने को कहा. बीजेपी संसदीय दल की बैठक ऐसे समय में हुई है जब आज आम बजट पेश किया गया है और दूसरी ओर राजस्थान में दो लोकसभा सीटों और एक विधानसभा पर हुए उप-चुनाव में बीजेपी को हार का सामना करना पड़ा है .

Loading...

बैठक के दौरान मोदी ने बजट की विशेषताओं की चर्चा की और इस संदर्भ में आयुष्मान भारत, शौचालय स्थापित करने, उज्ज्वला योजना स्वच्छ भारत, मेडिकल कालेज खोलने, शैक्षणिक केंद्र स्थापित करने के प्रस्तावों का उल्लेख किया. उन्होंने स्वास्थ्य बीमा योजना को दुनिया में ऐसी सबसे बड़ी पहल करार दिया. प्रधानमंत्री ने कहा कि हम सामाजिक न्याय की केवल बात नहीं करते बल्कि उस पर अमल करते हैं. बैठक के दौरान बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने बजट के संदर्भ में पीएम मोदी और वित्त मंत्री अरूण जेटली की सराहना की. जेटली ने भी पार्टी सांसदों को बजट के बारे में जानकारी दी. रेल मंत्री पीयूष गोयल ने रेल संबंधी प्रावधानों के बारे में चर्चा की.

Loading...
E-Paper