उत्तराखंड में पिछले पांच दिनों में कोरोना संक्रमण के 4143 मामले आए सामने….

- in Main Slider, उत्तराखंड

उत्तराखंड में कोरोना के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं। स्थिति का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि पिछले पांच दिन में मैदान से लेकर पहाड़ तक 4143 लोग इस बीमारी की चपेट में आ चुके हैं। शनिवार को प्रदेश में कोरोना के 950 मामले आए हैं। यह एक दिन में संक्रमितों की सर्वाधिक संख्या है। इससे पहले गुरुवार को 946 में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई थी। कोरोना की बढ़ती रफ्तार के चलते राज्य में सक्रिय मामले साढ़े सात हजार से ऊपर पहुंच चुके हैं।

स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार अलग-अलग लैब से 10570 सैंपल की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई है। इनमें 9620 निगेटिव आई है। देहरादून में सबसे अधिक 226 लोग संक्रमित मिले हैं। ऊधमसिंह नगर में 175 लोग कोरोना की चपेट में आए हैं। हरिद्वार में 133 में कोरोना की पुष्टि हुई है। इनमें भगवानपुर के उप जिलाधिकारी की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। इसके अलावा मंगलौर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में तैनात आठ चिकित्सक और स्वास्थ्य कर्मी भी संक्रमित मिले हैं। नैनीताल में 113 नए मामले मिले हैं। पौड़ी में भी कोरोना कहर ढाने लगा है। यहां पर 71 और नए मामले आए हैं।

अकेले श्रीनगर क्षेत्र में एसएसबी के दस जवानों समेत 48 लोग संक्रमित आए हैं। उत्तरकाशी में 69 नए मामले मिले हैं। टिहरी में 55, अल्मोड़ा में 32, चमोली में 30, रुद्रप्रयाग में 17, पिथौरागढ़ में आठ व बागेश्वर में सात लोग संक्रमित मिले हैं। चंपावत में तीन सेना और एक एसएसबी जवान सहित 14 की रिपोर्ट पॉजिटिव है। अब तक प्रदेश में 23961 में कोरोना की पुष्टि हुई है। इनमें से 15982 ठीक हो चुके हैं। जबकि 7573 मरीजों का इलाज चल रहा है। वहीं 74 मरीज राज्य से बाहर चले गए हैं।

535 मरीज डिस्चार्ज 

प्रदेश में 535 मरीजों ने कोरोना से जंग जीत ली है। इनमें 292 ऊधमसिंह नगर, 154 देहरादून, 32 टिहरी, 30 उत्तरकाशी, छह चंपावत, चार चमोली, तीन पिथौरागढ़ और एक मरीज रुद्रप्रयाग से है।

Loading...

पीडब्ल्यूडी के ऑफिसर समेत 12 की मौत

कोरोना के लिहाज से दिन-ब-दिन स्थिति भयावह होती जा रही है। हर दिन मरीजों की संख्या बढ़ने के साथ ही अब कोरोना संक्रिमतों की मौत का ग्राफ भी तेजी से बढ़ रहा है। शनिवार को भी उत्तराखंड में 12 मरीजों की मौत हुई है। अब तक प्रदेश में कोरोना संक्रमित 332 मरीज दम तोड़ चुके हैं। दून मेडिकल कॉलेज चिकित्सालय में कोरोना संक्रमित दो और मरीजों की मौत हुई है। इनमें गुरुद्वारा रोड करनपुर निवासी 48 वर्षीय व्यक्ति को तीन सितंबर को अस्पताल में भर्ती किया गया था। चिकित्सकों ने मौत की वजह गंभीर निमोनिया व रेस्पिरेटरी फेलियर बताया है। वहीं पीडब्ल्यूडी कॉलोनी हरिद्वार निवासी 57 वर्षीय व्यक्ति को चार सितंबर को अस्पताल में भर्ती किया गया।

वह लोनिवि हरिद्वार में एडमिन ऑफिसर के पद पर तैनात थे। उनकी मौत की वजह गंभीर निमोनिया,एक्यूट कोरोनरी सिंड्रोम व रेस्पिरेटरी फेलियर बताया गया है। वहीं, इंदिरा कॉलोनी निवासी एक मरीज ने देर शाम अस्पताल पहुंचते दम तोड़ दिया। उधर, हल्द्वानी स्थित डॉ. सुशीला तिवारी राजकीय चिकित्सालय में भी कोरोना संक्रमित तीन मरीजों की मौत हुई है। इसमें चंपावत निवासी 65 वर्षीय महिला, हल्द्वानी निवासी 48 वर्षीय व्यक्ति और एक हल्द्वानी का ही हिम्मतपुर तल्ला निवासी 56 वर्षीय व्यक्ति शामिल है। एम्स ऋषिकेश में भी छह मरीजों की मौत हुई है।

Loading...