उत्तराखंड में कोरोना से 2 कोरोना संक्रमित मरीजों की हुई मौत, आए 272 नये मामले

- in उत्तराखंड

 उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण थमता नहीं दिख रहा है। शुक्रवार को राज्य में 272 और लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। संक्रमितों की कुल संख्या 5717 पहुंच गई। हालांकि, इनमें से साठ फीसद यानी 3441 लोग स्वस्थ भी हो चुके हैं। वर्तमान में 2176 एक्टिव केस हैं, जबकि 38 मरीज राज्य से बाहर चले गए हैं।

इस बीच, अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) ऋषिकेश में भर्ती दो मरीजों की मौत हो गई। दोनों पहले से ही अन्य गंभीर बीमारी से पीड़ित थे। राज्य में अभी तक कोरोना संक्रमित 62 मरीजों की मौत हो चुकी है। जुलाई महीने में अभी तक जिस हिसाब से कोरोना संक्रमण के नए मामले आए हैं, उससे सिस्टम के माथे पर बल पड़ते दिखाई पड़ रहे हैं।

एम्स के जनसंपर्क अधिकारी डॉ. हरीश मोहन थपलियाल ने बताया कि रामनगर नैनीताल निवासी 45 वर्षीय व्यक्ति को 16 जुलाई को भर्ती किया गया था। वह मधुमेह से ग्रसित था। इस बीच, उसकी कोविड जांच की गई, जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। शु्क्रवार को तड़के उपचार के दौरान मरीज ने दम तोड़ दिया। मुजफ्फरनगर के घेरकलां निवासी 47 वर्षीय व्यक्ति को वीरवार को इमरजेंसी में लाया गया था। वह दो साल से लीवर की बीमारी से ग्रसित था। इस मरीज का कोविड टेस्ट भी पॉजिटिव आया। सुबह उसकी मौत हो गई।

स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार शुक्रवार को विभिन्न लैब से 4236 सैंपलों की जांच रिपोर्ट मिली है। जिनमें 3964 की रिपोर्ट निगेटिव और 272 की पॉजिटिव आई है। ऊधमसिंहनगर में सबसे अधिक 90 नए मामले आए हैं। इनमें 32 लोग ऐसे हैं जो कि पूर्व में संक्रमित पाए गए मरीजों के संपर्क में आए हैं। 54 लोगों की ट्रेवल हिस्ट्री अभी पता नहीं लग पाई है। जबकि चार लोग चेकअप कराने के लिए फ्लू क्लीनिक में पहुंचे थे। नैनीताल में भी 71 मामले मिले हैं। इनमें 47 लोग पूर्व संक्रमित व्यक्तियों के संपर्क में आए हैं। 2 की कोई ट्रेवल हिस्ट्री पता की जा रही है। जबकि दस लोग फ्लू क्लीनिक में जांच कराने पहुंचे थे।

Loading...

अल्मोड़ा में भी 31 लोगों की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इनमें 23 लोगों की ट्रेवल हिस्ट्री अभी पता नहीं चली है। अन्य लोग पंजाब, गुजरात, मुंबई व दिल्ली से वापस लौटे लोग हैं। देहरादून में 30 और लोग कोरोना की चपेट में आए हैं। इनमें छह स्वास्थ्य कर्मी भी हैं। हरिद्वार में 29 नए मामले सामने आए हैं। इनमें 25 किसी पॉजिटिव मरीज के संपर्क में आए लोग हैं। चार की कोई ट्रेवल हिस्ट्री नहीं है। चंपावत में भी 11 लोग संक्रमित मिले हैं। ये सभी पूर्व में संक्रमित पाए गए मरीजों के संपर्क में आए हैं। पिथौरागढ़ में दो संक्रमित मरीज मिले हैं जिनकी कोई ट्रेवल हिस्ट्री अभी पता नहीं लगी है। रुद्रप्रयाग व उत्तरकाशी में भी एक-एक व्यक्ति पॉजिटिव मिला है। इधर, चौबीस घंटे के अंतराल में प्रदेश में 42 मरीज स्वस्थ होकर घर लौट गए। इनमें 33 देहरादून, चार उत्तरकाशी, दो-दो हरिद्वार व अल्मोड़ा और एक टिहरी से है।

कोरोना सैंपलिंग के नोडल अधिकारी सहित 30 और संक्रमित

दून को कोराना अब एक भी दिन का सुकून नहीं लेने दे रहा है। हर दिन मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। शुक्रवार को भी जिले में कोरोना के 30 मामले सामने आए हैं। इनमें सेना के चार जवान और दो डॉक्टरों समेत छह मेडिकल कर्मचारी शामिल है। वहीं एम्स ऋषिकेश में भर्ती दो मरीजों की मौत भी हुई है। सीएमओ डॉ. बीसी रमोला ने बताया कि एम्स ऋषिकेश में कोरोना संक्रमित दो लोगों की मौत हो गई है। रामनगर व मुजफ्फरनगर निवासी दोनों मरीज गंभीर बीमारियों से ग्रसित थे। इसके अलावा एम्स ऋषिकेश में इलाज कराने व उनके साथ आए 16 लोगों में संक्रमण पाया गया है।

सेना के चार जवान, एक आइटीबीपी के जवान, जिले में कोरोना सैंपलिंग के नोडल अधिकारी, दून अस्पताल के एक चिकित्सक और एक निजी अस्पताल के चार स्वास्थ्य कíमयों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। उधर, दून अस्पताल के डिप्टी एमएस डॉ. एनएस खत्री ने बताया कि दस संक्रमितों को कोविड केयर सेंटर भेजा चार को डिस्चार्ज किया गया है। बता दें, जिले में अब तक कोरोना के 1319 मामले आए हैं। जिनमें 861 स्वस्थ हो चुके हैं। वर्तमान में 396 एक्टिव केस हैं, जबकि 36 की मौत हो चुकी है। वहीं 26 मरीज राज्य से बाहर जा चुके हैं।

Loading...