सैफ को रहेगा इस फिल्म में काम करने का अफ़सोस, कहा- ‘इतिहास को तोड़-मरोड़कर पेश…’

- in मनोरंजन
Loading...

बॉलीवुड में अपने दमदार किरदार के कारण फेमस होने वाले एक्टर सैफ अली खान आजकल फिल्म ‘तान्हाजीः अनसंग वॉरियर’ में नजर आ रहे हैं जो बॉक्स ऑफिस पर धमाल मचा रही है। इस फिल्म में वह नेगेटिव किरदार में हैं और उनके किरदार की तुलना ‘पद्मावत’ के अलाउद्दीन खिलजी के किरदार से की गई। वहीं अब सैफ ने हाल ही में दिए एक इंटरव्यू में कहा कि, ”इस फिल्म में इतिहास को तोड़-मरोड़कर पेश किया गया और इसे लेकर उन्हें अफसोस रहेगा।”

इसी के साथ उन्होंने देश के मौजूदा हाल और राजनीतिक मुद्दों पर भी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने पत्रकार अनुपमा चोपड़ा को दिए एक इंटरव्यू में कहा कि, ”इतिहास क्या है, मैं इसे जानता हूं लेकिन अगर कोई कहे कि फिल्म में जो दिखाया गया है वह इतिहास है तो मैं इसे नहीं मानता।” इसी के साथ उन्होंने देश के मौजूदा हालात पर भी अपने विचार रखे और कहा, ”फिलहाल देश में जो माहौल है, उसे देखकर दुख होता है।’सैफ ने इंटरव्यू में कहा कि फिल्म में ऐतिहासिक तथ्यों से छेड़छाड़ गलत है। फिल्म ‘तान्हाजीः अनसंग वॉरियर’ में मुगल जनरल उदयभान राठौड़ की भूमिका निभाने वाले सैफ ने कहा कि कुछ वजहों से मैं कोई स्टैंड नहीं लेता हूं। हो सकता है कि अगली बार करूं।”

आगे उन्होंने यह भी कहा कि ”मैं रोल को लेकर बहुत उत्साहित था, क्योंकि यह बहुत दिलचस्प था। लेकिन जब लोग कहते हैं कि यह इतिहास है, मैं नहीं मानता कि यह इतिहास है। मैं अच्छी तरह जानता हूं कि इतिहास क्या है।” आगे सैफ ने कहा कि, ”देश के हालातों को देखकर लगता है कि हम सेक्युलरिज्म से दूर जा रहे हैं और मुझे कोई भी इसके लिए लड़ता दिखाई नहीं दे रहा है।” आगे उन्होंने कहा कि, ”एक एक्टर होने के नाते मेरे लिए कोई भी स्टैंड लेना सही नहीं है, क्योंकि इससे फिल्में बैन हो सकती है और बिजनस पर असर पड़ता है। इसीलिए फिल्म इंडस्ट्री के लोग अपने बिजनस और अपने परिवार को खतरे में नहीं डालना चाहते और कोई भी पॉलिटिकल कॉमेंट करने से बचते हैं।”

Loading...