वॉल्श ने कहा जब मैं कनाडा टी20 लीग में खेल रहा था तो कुछ लोगों ने मुझे कर्टनी वॉल्श के नाम से पुकारा

Loading...

भारत के खिलाफ तिरुवनंतपुरम टी20 में वेस्टइंडीज के गेंदबाज हेडन वॉल्श ने सिर्फ दो विकेट हासिल किए लेकिन ये दोनों ही विकेट बेहद अहम थे। वॉल्श ने आतिशी बल्लेबाजी कर रहे भारतीय ऑलराउंडर शिवम दुबे को 54 रन के स्कोर पर आउट किया और इसके बाद श्रेयस अय्यर को भी आउट किया। मैच के बाद उन्होंने अपनी एक परेशानी बताया और कहा अब लोगों को पता चल जाएगा के मेरे पिता का नाम क्या है।

वेस्टइंडीज ने दूसरे टी20 मुकाबले में भारत के खिलाफ 8 विकेट की दमदार जीत दर्ज की। इस जीत में हेडन वॉल्श के 28 रन देकर दो विकेट की गेंदबाजी बेहद अहम साबित हुआ। गेंदबाजी को पिटाई कर रहे शिवम को वॉल्श ने आउट किया। 30 गेंद पर 54 रन बनाकर खेल रहे भारतीय युवा की बल्लेबाजी पर अगर वो लगाम नहीं लगाते तो टीम इंडिया बड़ा स्कोर खड़ा करने में कमयाब हो जाती।

मैच के बाद वॉल्श ने बताया कि उनको लोग पूर्व दिग्गज गेंदबाज कर्टनी वॉल्श का बेटा कहकर पुकारते हैं। वॉल्श ने एक किस्सा बताते हुए कहा, “जब मैं कनाडा टी20 लीग में खेल रहा था तो कुछ लोगों ने मुझे कर्टनी वॉल्श कहकर पुकारा। तो लोगों जान लीजिए मेरे पिता कर्टनी वॉल्श नहीं हैं। लेकिन अब मुझे ऐसा लगता है कि लोगों को यह पता चल गया होगा कि मैं कौन हूं और मेरे पिता कौन हैं।”

शिवम दुबे का विकेट हासिल करने पर वॉल्श ने कहा, “मैंने नेट्स में इविन (लुईस) और निकोलस (पूरन) को गेंदबाजी की है। मुझे उनके खिलाफ गेंदबाजी करने से पहले खुद पर काफी भरोसा था।”

इंटरनेशनल क्रिकेट में अपनी जगह बनाने पर उनका कहना था, हां, यह मेरे लिए उतार चढ़ाव भरा रहा। जैसा कि आप देख सकते हैं मैं इंटरनेशनल क्रिकेट में अपनी जगह बनाने के लिए काफी कड़ी मेहनत कर रहा हूं। इस मुकाम पर आना और इस तरह से मैच में ऐसा प्रदर्शन करने के बाद लग रहा है जैसे मैं चांद पर पहुंच गया हूं।

Loading...