KBC 11: आखिरी एपिसोड का हिस्सा बनेगी ये हस्ती…

Loading...

छोटे पर्दे पर प्रसारित होने वाला भारत का सबसे बड़ा रियलिटी क्विज शो कौन बनेगा करोड़पति. अगर इस शो को ज्यादा करोड़ों लोगों के दिलों से जुड़ा इमोशन कहा जाए तो ज्यादा बेहतर होगा. कौन बनेगा करोड़पति के कुल 19 साल के सफर में अब तक 11 सीजने आ चुके हैं. अमिताभ बच्चन ने शो के 10 सीजन होस्ट किए हैं. शुक्रवार रात सीजन 11 का आखिरी एपिसोड रात 9 बजे टेलीकास्ट होने वाला है. क्योंकि इस सीजन में ये परंपरा रही है कि हर शुक्रवार को एक कर्मवीर कंटेस्टेंट सेट पर होता है.

इस आखिरी एपिसोड में इस परंपरा को निभाया जाएगा और कर्मवीर कंटेस्टेंट सुधा मूर्ति सेट पर अमिताभ बच्चन के आगे हॉट सीट पर बैठेंगी. शो का एक प्रोमो वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर किया गया है जिसमें अमिताभ बच्चन पैर छूकर सेट पर सुधा मूर्ति का स्वागत करते नजर आ रहे हैं.

जाहिर तौर पर ये एक कमाल का सीन है क्योंकि आमतौर पर फास्टेस्ट फिंगर फर्स्ट जीतने के बाद जो भी कंटेस्टेंट सेट पर आते हैं वो सबसे पहले सदी के महानायक कहे जाने वाले अमिताभ बच्चन के पैर छूते हैं. सेट पर उन्हें किसी के पैर छूते हुए देखना वाकई एक कमाल का इमोशन लेकर आता है. शो के इस एपिसोड को लेकर दर्शक काफी इमोशनल हैं और ये इमोशन शो के प्रोमो वीडियो पर दर्शकों के कमेंट्स से साफ नजर आ रहा है.

शो के इस फाइनल एपिसोड का हिस्सा बनने जा रहीं सुधा मूर्ति ने 60,000 लाइब्रेरीज, ढेरों स्कूल्स, 16,000 से ज्यादा शौंचालयों का निर्माण करवाया है. सुधा ने समाज के लिए क्या काम किए हैं वो शो के एपिसोड में विस्तार से बताए जाएंगे. सुधा मूर्ति ने बताया कि इंजीनियरिंग की पढ़ाई के दौरान वो पूरी क्लास में अकेली लड़की हुआ करती थी. सुधा ने बताया कि वो एक ऐसी अकेली लड़की थी जो 599 लड़कों के बीच इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रही थी.

सोनी टीवी ने इस शो का एक प्रोमो वीडियो शेयर किया है जिसमें सुधा कह रही हैं, “इन्फोसिस बनाने में जिन्होंने न सिर्फ पति का हाथ बटाया बल्कि दुनिया के लिए मदद का हाथ भी बढ़ाया. हमारा फाउंडेशन समाज के लेवल में जो नीचे होते हैं उनको ऊपर लाने में हम मदद कर रहे हैं.” खुद अमिताभ बच्चन ने अपने ब्लॉग में सुधा का जिक्र किया है. बिग बी ने अपने ब्लॉग में लिखा, “कल 3 एपिसोड शूट करने थे और मुझे सुधा नारायण मूर्ति से मिलने का सौभाग्य प्राप्त हुआ, वे नारायण मूर्ति जी की पत्नी हैं और मुझे उनके फाउंडेशन और इसके द्वारा किए जाने वाले काम के बारे में जानने का मौका मिला.”

Loading...