TCS ने रचा इतिहास, बनी 100 बिलियन डॉलर क्लब की पहली भारतीय कंपनी

भारतीय शेयर बाजार में नेशनल स्टॉक एक्सचेंज पर लिस्टेड टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS) ने सोमवार बाजार खुलने के साथ तेज कारोबार करते हुए मार्केट कैपिटेलाइजेशन के मुताबिक 100 बिलियन डॉलर क्लब में अपनी जगह बना ली है. इसके साथ ही टीसीएस पहली भारतीय कंपनी बन गई है जो इस खास क्लब में शामिल हो चुकी है.

सोमवार शेयर बाजार पर कारोबार के पहले 1 घंटे के दौरान टीसीएन के शेयर्स 4.41 फीसदी की उछाल के साथ लगभग 140 अंकों की उछाल पर कारोबार करते देखे गए. शुक्रवार को बाजार बंद होते समय टीसीएस के शेयर 3,402 के स्तर पर बंद हुए थे और सोमवार टीसीएस के शेयर 3,424 ने स्तर पर खुले. पहले घंटे के कारोबार के दौरान 3,545 के स्तर को पार कर गए.

एनएसई के आंकड़ों के मुताबिक पहले पंद्रह मिनट के कारोबार के बाद टीसीएस का मार्केट कैप (मार्केट वैल्यू) 6,62,726.36 करोड़ के स्तर को पार कर गया. वहीं शुक्रवार को टीसीएस के शेयर्स ने लगभग 40,000 करोड़ रुपये का इजाफा कंपनी के वैल्यूएशन में किया था और वह इस क्लब में शामिल होने के कगार पर पहुंच गई थी.

पिछले साल RIL ने TCS को पछाड़ा था

इससे पहले पिछले साल अप्रैल में देश के शीर्ष उद्योगपति मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज (आरआईएल) चार वर्ष के अंतराल के बाद बाजार पूंजीकरण (मार्केट कैप) के मामले में देश की सबसे मूल्यवान कंपनी बनी थी. इस वक्त आरआईएल का बाजार पूंजीकरण मूल्य 4,60,518.80 करोड़ रुपये हो गया लेकिन वह इस क्लब से बेहद दूर रही. गौरतलब है कि इस वक्त आरआईएल ने बाजार पूंजीकरण के मामले में टाटा समूह की दिग्गज सॉफ्टवेयर कंपनी टाटा कंसल्टेंसी (टीसीएस) को पछाड़ा. 

नेतृत्व संकट से उबरा टाटा समूह?

गौरतलब है कि सीईओ और एमडी राजेश गोपीनाथ के नेतृत्व में टीसीएस ने मार्च बीती मार्च तिमाही के दौरान बेहद अच्छे नतीजे दिए थे.  वहीं बीते हफ्ते गुरुवार को टीसीएन में अपने साल-दर-साल मुनाफे में 4.48 फीसदी की बढ़त का ऐलान किया था. इस तिमाही के दौरान कंपनी का कन्सॉलिडेटेड मुनाफा 6,904 करोड़ रुपये का था. यह मुनाफा कंपनी की उम्मीद से भी बेहतर रहा. वहीं इस क्लब में शामिल होने पर टाटा समूह के चेयरमैन एन चंद्रशेखरन ने कहा कि कंपनी को इस मौके का लंबे समय से इंतजार था. चंद्रशेखरन ने उम्मीद जताई कि आने वाली तिमाही में कंपनी और बेहतर प्रदर्शन करने के लिए तैयार है.

Loading...
E-Paper