उन्नाव दुष्कर्म अारोपी कुलदीप सिंह ने नार्को टेस्ट की दी मौखिक सहमति

लखनऊ। उन्नाव कांड में सीबीआइ तेजी से घटनाक्रम की कडिय़ां जोडऩे के साथ ही साक्ष्यों का संकलन कर रही है। सूत्रों का कहना है कि पूछताछ के दौरान आरोपित भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर ने उनका नार्को एनालिसिस टेस्ट कराए जाने की मौखिक सहमति दे दी है। उल्लेखनीय है कि इससे पूर्व विधायक की पत्नी संगीता सिंह ने डीजीपी ओपी सिंह से भेंट कर अपने पति कुलदीप सिंह व पीडि़त किशोरी का नार्को टेस्ट कराए जाने की मांग की थी।

सीबीआइ दिल्ली के स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना ने बुधवार को लखनऊ स्थित सीबीआइ के जोनल मुख्यालय में उन्नाव कांड में अब तक की गई जांच की समीक्षा की। उन्होंने सीबीआइ लखनऊ के संयुक्त निदेशक डॉ.जीके गोस्वामी सहित अन्य अधिकारियों के साथ बैठक कर उन्नाव कांड में की गई जांच की प्रगति का ब्योरा लिया। जुटाए गए साक्ष्यों के बारे में भी जानकारी ली। इस बीच सीबीआइ टीम ने बुधवार को आरोपित भाजपा विधायक के भाई अतुल सिंह से लंबी पूछताछ की।

इससे पूर्व सीबीआइ टीम पीडि़त किशोरी के पिता की हत्या के मामले में अतुल सिंह सहित पांच आरोपितों को उन्नाव ले गई। जहां घटनास्थल का निरीक्षण करने के साथ ही उनसे कई सवाल पूछे। इधर, सीबीआइ ने विधायक व आरोपित शशि सिंह से कई चक्रों में पूछताछ जारी रखी। आरोपित शशि सिंह की पुलिस कस्टडी रिमांड की अवधि गुरुवार को पूरी हो रही है। सीबीआइ अतुल सिंह व उसके साथियों से पूछताछ के आधार पर विधायक से कई नए सवाल भी करेगी। माना जा रहा है कि विधायक व उसके भाई का सामना कराने के साथ ही दोनों को उन्नाव भी ले जाया जाएगा।

मेरा विधायक भाई निर्दोष है

सीबीआइ बुधवार सुबह करीब 11:15 बजे अतुल सिंह सहित पांच आरोपितों को जेल से लेकर मुख्यालय पहुंची। जहां प्रारंभिक पूछताछ के बाद उन्हें दोपहर 1:10 बजे उन्नाव ले जाया गया। मुख्यालय से बाहर आने के दौरान आरोपित अतुल सिंह ने मीडिया से कहा कि मेरा विधायक भाई निर्दोष है।
Loading...
E-Paper