मध्य प्रदेश: CM शिवराज का आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को बड़ा तोहफा

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज(रविवार)प्रदेश के आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का मानदेय 10,000 रुपये और सहायिकाओं का मानदेय 5,000 रुपये महीने करने की घोषणा की है. चौहान ने यह भी घोषणा की कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की सेवानिवृत्ति की आयु भी शासकीय कर्मचारियों के समान 62 वर्ष की जाएगी और उन्हें यात्रा भत्ता भी दिया जाएगा. इससे प्रदेश में पोषण अभियान में जुड़ी करीब 1.80 लाख आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं और सहायिकाओं को फायदा होगा.

हालांकि, चौहान ने यह नहीं बताया कि यह कब से लागू होगा. वर्तमान में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का मानदेय 5,000 और सहायिकाओं का मानदेय 2,500 रुपए है. इस मानदेय में 60 फीसदी राशि केंद्र सरकार की और शेष राशि मध्यप्रदेश सरकार मिलाती है. मुख्यमंत्री निवास पर यहां आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं और सहायिकाओं के लिए पोषण अभियान पर आयोजित उन्मुखीकरण कार्यशाला को संबोधित करते हुए चौहान ने कहा, ‘‘प्रदेश में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का मानदेय 10,000 रूपये और सहायिकाओं का मानदेय 5,000 रूपये महीने होगा. साथ ही उनकी सेवानिवृत्ति की आयु भी शासकीय कर्मचारियों के समान 62 वर्ष की जाएगी.

चौहान ने आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और सहायिकाओं से आग्रह किया कि वे आंगनवाड़ी का उत्कृष्ट प्रबंधन करें और कुपोषण मुक्त मध्यप्रदेश बनाने में पूरी मेहनत से काम करें. चौहान ने कहा कि किसी भी आंगनवाड़ी कार्यकर्ता एवं सहायिका को बिना जांच किए नहीं हटाया जाएगा. यदि आंगनवाड़ी सहायिका द्वारा आंगनवाड़ी कार्यकर्ता के रूप में चयन के लिए आवेदन किया जाता है तो उन्हें वरीयता दी जाएगी. 

 
Loading...
E-Paper