अरुणाचल प्रदेश: रेप के आरोपियों को गुस्‍साई भीड़ ने थाने से खींचकर पीटा, फिर जिंदा जला डाला…

अरुणाचल प्रदेश: गुस्‍साई भीड़ ने दुष्‍कर्म और हत्‍या के आरोपियों को ऐसी सजा दी है, जिसे सुनकर आप कांप जाएंगे. अरुणाचल प्रदेेेेश के लोहित जिले के तेजु में भीड़ ने पुलिस थाने से आरोपियों को निकालकर पहले पीटा और फिर जिंदा जला दिया.

जिन आरोपियों को जिंदा जलाया गया, उन पर एक बच्‍ची के साथ दुष्‍कर्म और हत्‍या का आरोप था. इनकी पहचान संजय सबर (30) और जगदीश लोहार (25) के रूप में हुई थी.

पुलिस ने भी इस घटना की पुष्टि कर दी है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, ये आरोपी अरुणाचल के चाय बागानों में काम करने आए थे.गत 12 फरवरी को 5 साल की एक बच्‍ची के साथ दुष्‍कर्म और फिर उसकी हत्‍या का मामला सामने आया था. इस बच्‍ची का शव चाय बागान से मिला था. ये वही चाय बागान है, जहां ये आरोपी काम करते थे.

इन दोनों पर पुलिस को शक तब हुआ जब घटना के बाद ये दोनों फरार हो गए. पुलिस ने असम से इनकी गिरफ्तारी की थी. जिसके बाद ये गुनाह कुबूल चुके थे. कोर्ट से न्‍यायिक हिरासत मिलने के बाद पुलिस ने इन्‍हें तेजू थाने में रखा था.

जब लोगों को इस बारे में पता चला तो थाने के बाहर बड़ी संख्‍या में भीड़ जमा हो गई. भीड़ ने आरोपियों को थाने से बाहर निकाला, फिर पीटते हुए चौराहे पर ले आए. इसके बाद उन्‍हें जिंदा जला दिया.

खबरों के मुताबिक, मुख्यमंत्री पेमा खांडु ने इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है. उन्होंने कहा है बच्ची से बलात्कार और हत्या की घटना अमानवीय है पर भीड़ का उग्र होना दुर्भाग्यपूर्ण है.

Loading...
E-Paper