आहार में स्ट्राबेरी को शामिल करना न सिर्फ अल्जाइमर से बचाव बल्कि उससे मुकाबले में भी है मददगार

एक नए अध्ययन में वैज्ञानियों को पता चला है कि दैनिक आहार में स्ट्राबेरी को शामिल करना न सिर्फ अल्जाइमर से बचाव, बल्कि उससे मुकाबले में भी मददगार हो सकता है।
अमेरिका स्थित आरयूएसएच यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने पाया कि स्ट्राबेरी में मौजूद बायोएक्टिव यौगिक पेलार्गोनिडिन मस्तिष्क के टाऊ टैंगल्स से संबंधित हो सकता है। टैंगल्स अल्जाइमर के संकेतों में शामिल हैं, जो मतिष्क के टाऊ प्रोटीन में असमान्य परिवर्तन के कारण पैदा होते हैं। आरयूएसएच अल्जाइमर डिजीज सेंटर में सहायक प्रोफेसर जूली श्नाइडर के अनुसार, हम समझते हैं कि पेलार्गोनिडिन की सूजन कम करने की क्षमता समग्र रूप से तंत्रिकाओं के सूजन में भी असरदार हो सकती है। इससे साइटोकाइन का उत्पादन कम हो सकता है। साइटोकाइन कोशिकाओं द्वारा उत्पादित प्रोटीन हैं, जो सूजन से जुड़ी प्रतिक्रियाओं का नियमन कर सकते हैं। मस्तिष्क में सूजन अल्जाइमर पैथोलाजी से संबंधित है, जैसे कि टैंगल्स। आंकड़े बताते हैं कि पेलार्गोनिडिन उम्रदराज लोगों के मस्तिष्क की अल्जाइमर से रक्षा करते हैं और स्ट्राबेरी में प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं। आरयूएसएच में इंटरनल मेडिसिन की सहायक प्रोफेसर पूजा अग्रवाल ने कहा, वैसे तो बुजुर्गों के मस्तिष्क की देखभाल में पेलार्गोनिडिन की भूमिका की विस्तृत जांच अभी बाकी है, लेकिन अध्ययन निष्कर्ष प्रारंभिक तौर पर यह सलाह देते हैं कि आहार में स्ट्राबेरी को शामिल करना मददगार साबित हो सकता है। अध्ययन निष्कर्ष अल्जाइमर डिजीज नामक पत्रिका में प्रकाशित हुआ है। स्ट्रॉबेरी खाने के फायदे 1. खनीज और विटामिन्स से भरपूर होने के साथ ही स्ट्रॉबेरीज़ में एंटीऑक्सीडेंट्स मौजूद होते हैं, जो शरीर के दर्द में आराम पहुंचाने का काम करते हैं। स्ट्रॉबेरीज़ ब्लड शुगर के स्तर को कम करने का काम भी करती है और साथ ही कार्डियोवेस्कुलर हेल्द को भी बेहतर करती है। हेल्थ एक्सपर्ट्स का कहना है कि स्ट्रॉबेरीज़ में कोलेस्ट्रॉल, फैट या फिर सोडियम नहीं होता है, जो इसे एक लो-कैलोरी फल बनाता है। 2. आपने कई बार सुना होगा कि स्ट्रॉबेरीज़ खाने से वज़न बढ़ता है, हालांकि हेल्थ एक्सपर्ट्स की मानें तो यह सिर्फ एक मिथक है और दावा करते हैं कि बेरीज़ में पोटैशियम और विटामिन-सी होता है, जो वज़न तेज़ी से घटाने में मददगार साबित होता है। 3. स्ट्रॉबेरीज़ में विटामिन-सी होता है, जो कई तरह की बीमारियों को रोकने में मदद करता है। इसमें कई तरह के एंटी-इंफ्लामेटरी एंज़ाइम्स और एंटीऑक्सीडेंट्स भी होते हैं, जो वज़न घटाने और पाचन को बढ़ावा देने में मदद करते हैं। 4. स्ट्रॉबेरीज़ फाइबर के साथ कई तरह पोषक तत्वों से भरपूर होती है। इसमें पानी की भी अच्छी मात्रा होती है, जिससे वज़न घटाने में मदद मिलती है। 5. स्ट्रॉबेरीज़ को सलाद या फिर दही के साथ खाया जा सकता है। इन्हें नाश्ते के वक्त कॉर्नफ्लेक्स या ओट्स में भी डाला जा सकता है।
Loading...
E-Paper