नामांकन प्रक्रिया शुरु होने से सप्ताह भर पहले कांग्रेस ने घोषित कर दी फरीदकोट सीट

नामांकन प्रक्रिया शुरु होने से सप्ताह भर पहले कांग्रेस ने फरीदकोट से कुशलदीप सिंह ढिल्लो को एक बार फिर से चुनाव मैदान में उतार दिया है। 2017 के विधानसभा चुनाव में ढिल्लो अपने प्रतिद्वंद्वी को 11 हजार मतों से पराजित करने में सफल रहे थे। इस बार भाजपा गठबंधन के भी चुनाव मैदान में होने से ढिल्लो की राह आसान नहीं होगी। फरीदकोट विधानसभा सीट पर सबसे पहले शिअद ने 2017 के प्रत्यशी रहे परमबंश सिंह रोमाणा को टिकट की घोषणा, उसके बाद आम आदमी पार्टी ने भी 2017 के प्रत्याशी रहे गुरदित्त सिंह को चुनाव मैदान में उतारा और अब कांग्रेस ने भी 2017 के प्रत्याशी को टिकट की घोषणा कर दी है। हालांकि फरीदकोट विधानसभा सीट के चुनावी रण की स्थित तब तक साफ नहीं होगी जब तक कि भाजपा गठबंधन और किसानों की पार्टियों के प्रत्यार्शी भी चुनाव में मैदान में उतर नहीं जाते है। फरीदकोट सीट से पार्टी की ओर से टिकट के दावेदार कुशलदीप सिंह ढिल्लो ही थे, और ढिल्लो भी टिकट को लेकर पूरी तरह से आस्वस्त थे। टिकट की घोषणा होने से पहले ही उन्होंने फरीदकोट शहर के कन्हैया चौक के सामने अपना मुख्य चुनाव दफ्तर का उद्घाटन कर लिया था। ढिल्लो के समक्ष इस बार शहर से ज्यादा गांवों में चुनौती दिखाई दे रही है। इसके अलावा भाजपा गठबंधन प्रत्याशी के चुनाव मैदान में आने से ढिल्लो के वोटबैंक में ही सेंध लगेगी। सभी उम्मीदवारों व राजनीतिक विश्लेषकोंकी निगाह भाजपा गठबंधन उम्मीदवार की ओर लगी हुई है। ढिल्लो को टिकट मिलने पर कांग्रेस जिला प्रधान दर्शन सहोता ने कहा कि ढिल्लो ने चहुतरफा विकास बिना किसी पक्ष-पात के किया है, ऐसे में फरीदकोट की जनता भी ढिल्लो के साथ खड़ी होगी।
Loading...
E-Paper