छतरी पर हीरे-सोने की बरसात, देखकर लोगों हुए हैरान

विश्व के बाजार में सूरत के हीरा व्यापारियों ने अपनी एक अलग चमक बिखेरी है। हीरा श्रमिकों ने इस बार जेम्स एंड ज्वैलरी अंतर्राष्ट्रीय प्रदर्शनी में अनोखे आभूषणों को पेश किया है, जिसमें हीरा जड़ित छतरी आकर्षण का केंद्र है, जो अमेरिका से प्राप्त हुए ऑर्डर के पश्चात् बनाई गई है। दरअसल, यह हीरा जड़ित छतरी अमेरिका से प्राप्त हुए ऑर्डर के पश्चात् सूरत की एक कंपनी ने बनाई है। इसे बनाने वाली हीरा व्यापारी चेतना मांगूकिया की मानें तो इसमें 175 कैरेट हीरा लगा है। लगभग 450 ग्राम सोने में 12000 से ज्यादा हीरों से इस छतरी को तैयार किया गया है।

वही इसे बनाने में लगभग 25 से 30 कारीगरों ने 25 दिन की मेहनत की। इस छतरी को हीरा बाजार में 25 से 30 लाख रुपये में क्रय कर सकते हैं। व्यापारी की मानें तो अमेरिका, यूरोप, हांगकांग इत्यादि हीरा बाज़ारों से उन्हें ऑर्डर प्राप्त हो रहे हैं। जेम्स एंड ज्वैलरी एग्जीबिशन में आई एक महिला ग्रेसी ने कहा कि यहां एक से बढ़कर एक हीरा जड़ित आभूषण उपस्थित हैं। हीरों के हार से लेकर ईयर रिंग तथा कंगन उपस्थित हैं। मगर, इन सबके बीच हीरा जड़ित छतरी लोगों को अपनी तरफ आकर्षित कर रही है। इसे देखने वाले इसे खरीदने की अवश्य सोचते हैं।

वही कोरोना महामारी में जहां एक तरफ अन्य कारोबार संघर्षरत हैं, वहीं हीरा उद्योग को मानो पंख लग गए हैं। यही वजह है कि अपनी कारीगरी को विश्व के समक्ष रखने के लिए ज्वेलरी मैनुफैक्चरिंग एसोसिएशन की तरफ से विश्व स्तरीय प्रदर्शनी का आयोजन किया गया है, जिसमें विश्व भर से ख़रीददारों के आने की उम्मीद है।

 

Loading...
E-Paper