मौसम विज्ञान ने इन चार राज्यों में भारी बारिश को लेकर अलर्ट किया जारी

नई दिल्ली: भारत मौसम विज्ञान विभाग ने केरल समेत 4 राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश में हल्की से अत्याधिक भारी बारिश होने की संभावना जताई है. इसको लेकर मौसम विभाग ने अलर्ट जारी किया है. बता दें कि पिछले कुछ दिनों में तमिलनाडु, केरल और आंध्र प्रदेश में भारी बारिश के बाद कई इलाकों में बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं.

इन राज्यों में होगी भारी बारिश

मौसम विभाग (IMD) की भविष्यवाणी और चेतावनी के अनुसार, कर्नाटक के दक्षिणी आंतरिक हिस्से, आंध्र प्रदेश, केरल और तमिलनाडु के अलावा केंद्र शासित प्रदेश पुडुचेरी में अगले 5 दिनों में हल्की से अत्यधिक भारी बारिश का अनुमान है. इस दौरान तमिलनाडु और पुडुचेरी में 25-27 नवंबर के बीच भारी बारिश का अनुमान है. इसके अलावा 27 नवंबर को आंध्र प्रदेश के यनम और रायलसीमा के अलावा दक्षिणी तटीय इलाके में अत्यधिक भारी बारिश का अनुमान है. इसके साथ ही मौसम विभाग ने तमिलनाडु के लिए 25-26 नवंबर के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है.

तेज रफ्तार से हवा चलने की संभावना

तमिलनाडु और दक्षिण आंध्र प्रदेश के तटों और मन्नार की खाड़ी के साथ-साथ दक्षिण-पश्चिम और उससे सटे पश्चिम-मध्य बंगाल की खाड़ी में 26 और 27 नवंबर को तेज हवा चलने की संभावना है. इस दौरान 40-60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल सकती है.

मछुआरों को समुद्र से दूर रहने की सलाह

मौसम विभाग (IMD) ने चेतावनी दी है कि भारी बारिश और तेज हवा की वजह से मछुआरों के लिए मुश्किल खड़ी हो सकती है, इसीलिए इस दौरान समुद्र में मछली पकड़ने नहीं जाएं और उन्हें समुद्र से दूर रहने की सलाह दी गई है. आईएमडी ने कहा कि भारी बारिश से समुद्र में तेज लहरें उठ सकती हैं.

कश्मीर में शीत लहर की स्थिति, पारा गिरा

उत्तर भारत में पारा नीचे जाने लगा और लगातार ठंड बढ़ती जा रही है. कश्मीर में शीत लहर की स्थिति बनी हुई है और पारा काफी नीचे चल गया है. श्रीनगर में सोमवार की रात तापमान शून्य से 2.3 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया और इस मौसम की अब तक की यह सबसे सर्द रात रही. मौसम विभाग के अधिकारियों ने बताया कि कश्मीर में पिछली कुछ रातों से तापमान शून्य से नीचे दर्ज किया जा रहा है और ज्यादातर स्थानों पर इस मौसम के सामान्य तापमान की अपेक्षा पारा दो से तीन डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया जा रहा है. पहलगाम में तापमान शून्य से 4.4 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया, जो कि कश्मीर में सबसे ठंडा स्थान रहा.

Loading...
E-Paper