टॉयलेट के दौरान होती है ये प्रॉब्‍लम, तो हो जाएं सावधान, जानें इस बारे में…..

नई दिल्ली : क्या मल में भी सफेद बलगम निकलता है? ये मल से निकलने वाला म्यूकस सेहत के लिए किसी खतरे का संकेत हो सकता है. आइए जानें, म्यूकस निकलने से क्या गंभीर समस्याएं हो सकती हैं.

इन वजहों से आ सकता है म्यूकस

मल में बलगम आने के दो सामान्य कारण हैं डिहाइड्रेशन और कब्ज. इन दो स्थितियों के कारण बलगम मल के जरिए शरीर से बाहर निकल सकता है. इन समस्याओं के कारण होने वाला बलगम अपने आप या दवा से ठीक हो सकता है.

यदि म्यूकस के स्तर में परिवर्तन होता है तो ये एक सूजन गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल स्थिति की वजह से हो सकता है.

क्रोहन रोग 

ये एक इंफ्लेमेट्री बाउल डिजीज है जो आपके गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल (जीआई) (gastrointestinal) के रास्ते को प्रभावित करती है. इसके प्रारंभिक लक्षणों में दस्त या थकान साथ ही मल में अधिक बलगम निकल सकता है.

सिस्टिक फाइब्रोसिस 

सिस्टिक फाइब्रोसिस एक जेनेटिक डिसऑर्डर है जिसके कारण फेफड़ों, पेक्रिंयाटिक, लिवर या आंतों में से गाढ़ा या चिपचिपा बलगम बनता है. सिस्टिक फाइब्रोसिस भी मल में बलगम पैदा कर सकता है.

अल्सरेटिव कोलाइटिस 

अल्सरेटिव कोलाइटिस गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल (जीआई) रोग है. यह बड़ी आंत या मलाशय में सूजन का कारण बनती है. इस स्थिति में बलगम अत्यधिक तब निकलता है जब शरीर अल्सरेटिव कोलाइटिस के लक्षणों से जूझ रहा होता है. ये मल में बलगम को बढ़ा सकता है.

Loading...
E-Paper