IPL 2021 फाइनल से पहले जानिए इस सीजन कैसा रहा है दोनों कप्तानों का प्रदर्शन

नई दिल्ली, इंडियन प्रीमियर लीग यानी IPL का 2021 का सीजन अब समापन की ओर है। आइपीएल के 14वें सीजन का एकमात्र फाइनल मुकाबला बाकी है, जिसमें चेन्नई सुपर किंग्स की टक्कर कोलकाता नाइट राइडर्स से होगी। क्वालीफायर 1 को जीतकर चेन्नई सुपर किंग्स और क्वालीफायर 2 को जीतकर कोलकाता की टीम फाइनल में पहुंची है। शुक्रवार 15 अक्टूबर को खेले जाने वाले इस महामुकाबले से पहले जान लीजिए कि आइपीएल 2021 में सीएसके के कप्तान एमएस धौनी और केकेआर के कप्तान इयोन मोर्गन का प्रदर्शन एक कप्तान और बल्लेबाज के तौर पर कैसा रहा है।

चेन्नई और कोलकाता की टीम भले ही आइपीएल 2021 के फाइनल में पहुंच गई हों, लेकिन इसमें दोनों ही टीमों के कप्तान का एक बल्लेबाज के तौर पर कोई खास रोल नहीं रहा है। दोनों ही टीमों के टाप आर्डर ने ज्यादातर मौकों पर टीम को जीत दिलाई है। यहां तक कि दोनों कप्तान फिनिशर की भूमिका में हैं, लेकिन ऐसा एक भी मैच याद नहीं आता, जब इन खिलाड़ियों ने बड़ी या तेज पारियां खेलकर अपनी-अपनी टीम को जीत दिलाई हो। आइपीएल 2021 का क्वालीफायर 1 मैच एमएस धौनी के लिए भले ही अच्छा रहा हो, लेकिन यहां भी उनके बल्ले से कोई बड़ी पारी नहीं निकली थी।

धौनी का सफर

चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान एमएस धौनी की बात करें तो उनकी कप्तानी में टीम ने 14 मैचों में 9 मैच जीतकर 18 अंक हासिल किए थे और टीम अंकतालिका में टाप 2 में रही थी। ऐसे में टीम को क्वालीफायर 1 में खेलने का मौका मिला, जहां टीम दिल्ली को हराकर फाइनल में पहुंची। वहीं, एक बल्लेबाज के तौर पर एमएस धौनी ने 15 मैचों की 11 पारियों में 4 बार नाबाद रहते हुए कुल 114 रन बनाए हैं, जिसमें उनका सर्वाधिक स्कोर 18 रन नाबाद है। महज 16.28 के औसत और 106.54 के स्ट्राइकरेट से उन्होंने रन बनाए हैं।

मोर्गन का सफर

कोलकाता नाइट राइडर्स के कप्तान इयोन मोर्गन की बात करें तो उनकी कप्तानी में टीम किस्मत के दम पर बेहतर नेट रन रेट के कारण प्लेआफ में पहुंचने में सफल रही। टीम ने 14 में से 7 मुकाबले जीते थे और टीम के खाते में कुल 14 अंक थे। हालांकि, यूएई में खेले गए 7 में से 5 लीग मैचों में टीम को जीत मिली। वहीं, एक बल्लेबाज के तौर पर इयोन मोर्गन 16 मैचों की 15 पारियों में 4 बार नाबाद रहते हुए कुल 129 रन बना पाए हैं, जिसमें से 47 रन उन्होंने एक ही मैच में बनाए थे। महज 11.72 के औसत और 98.47 के स्ट्राइकरेट से उन्होंने रन बनाए हैं।

 

Loading...
E-Paper