निलंबित कांग्रेस नेता और केरल प्रदेश कमेटी के पूर्व महासचिव केपी अनिल कुमार ने दिया इस्तीफा, पढ़े पूरी खबर

निलंबित कांग्रेस नेता और केरल प्रदेश कमेटी के पूर्व महासचिव केपी अनिल कुमार ( KP Anil Kumar) ने मंगलवार को इस्तीफा दे दिया है। अपने ताजा बयान में उन्होंने एलान किया है कि वह सीपीआई (एम) में शामिल हो रहे हैं। साथ ही बताया,’ मैंने सोनिया गांधी को अपना इस्तीफा मेल कर दिया है। 43 सालों तक मैंने कांग्रेस पार्टी के साथ काम किया है, लेकिन नए नेतृत्व ने मेरी पीठ में छुरा घोंप दिया। मेरे निलंबन के बारे में मुझे मीडिया के जरिए पता चल रहा है। पार्टी में लोकतंत्र नहीं है।’

 

अनुशासनात्मक कार्रवाई के तहत हुए थे निलंबित

एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की अध्यक्ष सोनिया गांधी और केरल प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष के. सुधाकरन को उन्होंने अपना इस्तीफा भेज दिया है। बता दें कि जिला कांग्रेस कमेटी (DCC) के अध्यक्षों के चयन पर सार्वजनिक रूप से प्रतिक्रिया देने के लिए अनिल कुमार को अनुशासनात्मक कार्रवाई के तहत पहले निलंबित कर दिया गया था।

अनिल कुमार ने पेश की अपनी सफाई, वेणुगोपाल पर लगाए आरोप

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि कि वह किसी भ्रष्टाचार में शामिल नहीं हैं और सौर घोटाले में अन्य कांग्रेस नेताओं की तरह उनका नाम नहीं लिया गया है। अनिल कुमार ने एआईसीसी महासचिव केसी वेणुगोपाल पर निशाना साधा और दावा किया कि वह कांग्रेस में समस्याओं का मूल कारण हैं। इतना ही नहीं कहा कि केसी वेणुगोपाल कांग्रेस को खत्म करने की कोशिश कर रहे हैं।

 

बता दें कि जैसे ही अनिल कुमार ने अपने इस्तीफे की घोषणा की वैसे ही केपीसीसी अध्यक्ष के.सुधाकरन ने एक बयान जारी कर अनिल कुमार को कांग्रेस से निष्कासित कर दिया। केरल कांग्रेस प्रमुख ने कहा, ‘अनुशासनात्मक कार्रवाई के संबंध में केपी अनिल कुमार का स्पष्टीकरण  मिलने के बाद उन्हें पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निष्कासित कर दिया गया है।

Loading...
E-Paper