जाने फेस शीट मास्क लगाने से होने वाले नुकसान के बारे में…

हम अकसर बिना सोचे-समझे अपनी त्वचा पर फेस शीट मास्क लगाते हैं पर क्या ये सचमुच त्वचा को सही रखते हैं। इस मास्क को लगाने से आपकी त्वचा की डेड सेल्स हट जाती हैं, स्किन में ताजगी का एहसास होता है और खोई हुई चमक वापस आ जाती है। अगर आपकी त्वचा में यह चीज़ें सही हैं तो आपका फेस शीट मास्क एकदम सही है, लेकिन यह भी जरूरी नहीं है कि हमेशा त्वचा के लिए यह मास्क अच्छे ही होंगे। इसलिए इसे लेते समय अपनी स्किन टाइप का खासतौर पर ध्यान रखें। अगर आपको त्वचा संबंधी कोई भी समस्या है तो फेस शीट मास्क लगाने से पहले अपनी स्किन एक्सपर्ट की राय जरूर लें। ध्यान दें कि फेस मास्क को ज्यादा देर तक रखने से रिंकल्स भी पड़ सकेत हैं। इससे त्वचा में ढीलापन आ सकता है और इससे कई बार स्किन के पोर्स भी बढ़ जाते हैं। इस मास्क को बार-बार न लगाएं क्योंकि ह आपकी त्वचा डाई और खुजलीदार बना सकता है, जिसके कारण त्वचा संबंधी कई समस्याएं हो सकती हैं।

 

एक्ने

अगर किसी को ब्रेकआउट होने का खतरा है, तो उसमें फेस शीट मास्क लगाने से एक्ने की समस्या बढ़ जाती है। जो त्वचा पर एक्ने पैदा करने वाले बैक्टीरिया और सीबम को फंसा सकते हैं, जिससे व्हाइटहेड्स, ब्लैकहेड्स और सूजन वाले एक्ने हो सकते हैं। वहीं मास्क के अंदर की गर्मी स्किन के सेल्स को पतला कर सकती है, जिससे रोसैसिया होने के चांसेज़ बढ़ जाते हैं। इस गर्मी से चिन एरिया में रोसैसिया की परेशानी हो सकती है।

 

ड्राई स्किन

कुछ फेस शीट मास्क आपके चेहरे के नेचुरल मॉयस्चर को एब्जॉर्ब कर सकते हैं, जिसके परिणामस्वरूप उस हिस्से की त्वचा बेहद रूखी हो जाती है।

डर्मेटाइटिस

जो लोग नियमित फेस शीट मास्क लगाते हैं, उन्हें कॉन्टैक्ट डर्मेटाइटिस नामक दाने का अनुभव हो सकता है।

उपाय

फेस मास्क को सप्ताह में एक ही बार लगाएं क्योंकि यह आपकी त्वचा को रूखा और खुजलीदार बना सकता है।

(डॉ. अजय राणा, आईएलएएमईडी के डर्मेटोलॉजिस्ट से बातचीत पर आधारित)

Loading...
E-Paper