जानिए क्यों है आज का दिन विराट कोहली के लिए खास, क्या रच पाएंगे इतिहास…

भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली आइसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल के दूसरे दिन खराब रोशनी और बारिश के कारण समाप्त हुए मैच में नाबाद लौटे थे। 44 रन पर बल्लेबाजी कर रहे विराट कोहली आज यानी रविवार 20 जून का दिन बेहद खास है। टेस्ट क्रिकेट के सबसे सफल कप्तानों में से एक माने-जाने वाले विराट कोहली के लिए आज का दिन उनके टेस्ट करियर से ही जुड़ा है। ऐसे में आज उनके पास अपने इस खास दिन को ऐतिहासिक बनाने का मौका है।

दरअसल, विराट कोहली ने आज ही के दिन साल 2011 में 20 जून को वेस्टइंडीज के खिलाफ सबीना पार्क मैदान पर टेस्ट डेब्यू किया था। इस तरह विराट कोहली ने आज टेस्ट करियर के 10 साल पूरे कर लिए हैं। 11वें साल में वे प्रवेश करने वाले हैं, लेकिन इससे पहले उनके पास इतिहास रचने का मौका है। शनिवार को जहां उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में 7500 रन का आंकड़ा पूरा किया। वहीं, रविवार को उनके पास शतक ठोककर इतिहास रचने का मौका है, जिससे वे ज्यादा दूर नहीं है।

44 रन बनाकर नाबाद लौटे विराट कोहली अगर अपने टेस्ट डेब्यू की वर्षगांठ पर शतक ठोकते हैं तो वे ऑस्ट्रेलियाई टीम के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग की बराबरी कर लेंगे, जबकि एक मामले में उनको पीछे छोड़ देंगे। विराट कोहली अगर इस मैच में शतक ठोकते हैं तो अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में उनके शतकों की संख्या 71 हो जाएगी, जो कि रिकी पोंटिंग के बराबर होगी। वहीं, बतौर कप्तान शतक जड़ने के मामले में वे रिकी पोंटिंग के बराबर हैं।

इस तरह कप्तान विराट कोहली के पास अपने इस खास दिन को ऐतिहासिक बनाने का मौका है। विराट कोहली अगर शतक जड़ देते हैं तो वे रिकी पोंटिंग को पीछे छोड़कर वर्ल्ड रिकॉर्ड बना देंगे। टेस्ट क्रिकेट में ये उनका 26वां शतक होगा, जबकि बतौर कप्तान टेस्ट क्रिकेट में उनका ये 21वां शतक होगा। विराट कोहली ने वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू 18 अगस्त 2008 को किया था।

Loading...
E-Paper