साल का पहला सूर्यग्रहण इन 5 राशियों के लिए लेकर खुशियों भरी सौगात

सूर्य राशि परिवर्तन का सभी 12 राशियों पर प्रभाव पड़ता है। अब सूर्य का गोचर मिथुन राशि में होगा। सूर्य 15 जून को अपना राशि परिवर्तन करेंगे। अभी तक सूर्य वृषभ राशि पर विराजमान थे। सूर्य जन्म कुंडली में उच्च स्थिति में होने पर शुभ परिणाम देता है। जानिए सूर्य राशि परिवर्तन का आपके जीवन पर क्या पड़ेगा असर-

1. मेष- सूर्य का गोचर आपके तीसरे भाव में होगा। इस दौरान आपका मन भटक सकता है। सूर्य गोचर के दौरान किसी खास व्यक्ति से मुलाकात हो सकती है। बुद्धि से धन लाभ होगा। यात्रा से भी धन लाभ होगा। भाग्य भी साथ देगा।

2. वृषभ- सूर्य का गोचर आपके चौथे भाव में होगा। घर परिवार से सुख-साधन मिलेगा। इस दौरान के दौरान आपको शुभ परिणाम मिलेंगे। प्रॉपर्टी से लाभ मिलेगा। मान-सम्मान में बढ़ोत्तरी होगी।

3. मिथुन– इस राशि में ही सूर्य का गोचर हुआ है। सूर्य गोचर से आपका साहस और आत्मविश्वास बढ़ेगा। इस दौरान आपको आंख संबंधी विकार हो सकता है। सेहत का ध्यान रखें। हालांकि सूर्य गोचर से धन लाभ के योग बनेंगे।

4. कर्क- सूर्य देव आपके 12वें भाव में गोचर करेंगे। इस दौरान आपका आत्मविश्वास कम हो सकता है। परिवार के लोगों से विवाद हो सकता है। सेहत का ध्यान रखें।

5. सिंह- सिंह राशि में एकादश भाव में सूर्य गोचर करेंगे। इस दौरान आपका कोई बड़ा काम हो सकता है। धन लाभ के भी प्रबल योग बनेंगे। मान-सम्मान में वृद्धि होगी। यात्रा से लाभ होगा।

6. कन्या- कन्या राशि में सूर्य का दशम भाव में गोचर होगा। कार्यक्षेत्र में दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। यात्रा में खर्च हो सकता है। सरकारी क्षेत्र से लाभ मिल सकता है। भाग्योदय होगा। 

7. तुला- तुला राशि में सूर्य का गोचर राजयोग बनाएगा। धन आगमन के योग बनेंगे। आपके बिगड़े हुए काम पूरे होंगे। वाद-विवाद से बचें। वाणी पर कंट्रोल रखें। आपके लिए यह गोचर लाभकारी रहेगा।

8. वृश्चिक- सूर्य का गोचर आपका साहस और हिम्मत बढ़ाएगा। सूर्य गोचर के दौरान आपके कार्यक्षेत्र में दिक्कतें आ सकती हैं। धन आगमन रूक सकता है। जीवनसाथी के साथ तनाव हो सकता है।

9. धनु- सूर्य का गोचर धनु राशि वालों के लिए शुभ साबित होगा। इस दौरान आपको प्रमोशन मिल सकता है। कार्यक्षेत्र में लाभ हो सकता है। नौकरी में नए अवसर प्राप्त होंगे। जीवनसाथी के साथ मतभेद हो सकते हैं।

10. मकर- सूर्य देव का इस राशि के 6वें भाव में गोचर होगा। इस दौरान आपको अड़चनों का सामना करना पड़ सकता है। मेहनत का फल मिलेगा। शिक्षा में अवरोध आ सकते हैं। संतान की सेहत का ध्यान रखें।

11. कुंभ- सूर्य का गोचर आपके पंचम भाव में होगा। बुद्धि के बल पर किए गए कामों में लाभ होगा। किसी के प्रति झुकाव हो सकता है। भाग्य आपका साथ देगा। वाहन या भूमि सुख भी मिल सकता है।

12. मीन- सूर्य गोचर के दौरान किसी भी तरह की प्रॉपर्टी न खरीदें। मानसिक तनाव हो सकता है। माता की सेहत का ध्यान रखें। यह महीना आपके परिवार के वातावरण को प्रभावित करेगा।

Loading...
E-Paper