बढ़ते कोरोना मामलों के कारण इंडिया ओपन 2021 टूर्नामेंट हुआ स्थगित

भारतीय बैडमिंटन संघ ने इंडिया ओपन सुपर 500 टूर्नामेंट स्थगित करने का फैसला किया है। देश में कोरोना मामलों में वृद्धि के कारण ऐसे किसी भी व्यक्ति की सभा के लिए समय जोखिम भरा है। इस साल का इंडिया ओपन ओलंपिक क्वालीफिकेशन चक्र में पिछले कुछ आयोजनों में से एक माना जा रहा था।

इससे पहले यह टूर्नामेंट नई दिल्ली के केडी जाधव स्टेडियम में 11 से 16 मई तक आयोजित किया जाना था। सुपर 500 टूर्नामेंट बंद दरवाजों के पीछे आयोजित किया जाना तय था। बीएआई के महासचिव अजय सिंघानिया ने कहा कि राष्ट्रीय बैडमिंटन निकाय ने कॉल लेने से पहले बैडमिंटन विश्व महासंघ के साथ-साथ दिल्ली सरकार के साथ विचार-विमर्श किया । यह कॉल खिलाड़ियों और अधिकारियों की सुरक्षा के संबंध में महत्वपूर्ण था । कथित तौर पर दिल्ली ने राष्ट्रीय राजधानी में हालात पर अंकुश लगाने के लिए सोमवार शाम से 6 दिन का लॉकडाउन लगा दिया है। 

सिंघानिया ने कहा कि मौजूदा चुनौतियों को देखते हुए बाई के पास स्थगन की घोषणा करने के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा है। कोरोनावायरस मामलों की स्पाइक ने देश भर में लॉकडाउन जैसी स्थिति को पहले ही फिर से शुरू कर दिया है। समारोहों और में व्यक्ति गतिविधियों के कई तो किसी भी हंगामा से बचने के लिए टूर्नामेंट के स्थगन बेहतर होगा खारिज कर रहे हैं। विशेष रूप से, 228 के करीब खिलाड़ी इंडिया ओपन 2021 के लिए प्रारंभिक प्रवेश सूची का हिस्सा थे। भारत की स्टार और विश्व चैंपियन पीवी सिंधु के साथ दुनिया की नंबर-1 केंटो मोमोटा, अकाने यामागुची और विक्टर एक्सेलसन प्रवेश सूची का हिस्सा थे।

Loading...
E-Paper