यूपी के मुख्यमंत्री योगी अादित्यनाथ का तीन दिवसीय कर्नाटक दौरा आज से

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुरुवार से तीन दिन तक कर्नाटक दौरे पर रहेंगे। उनका यह दौरा वहां हो रहे विधानसभा चुनावों में प्रचार के मद्दे हो रहा है। इस दौरान वह करीब दर्जन भर चुनावी सभाओं को संबोधित करेंगे। पांच मई को दोपहर बाद वह लखनऊ लौटेंगे। 

योगी बुधवार को यहां से दिल्ली चले गए। गुरुवार को वह दिल्ली से कर्नाटक जाएंगे। वहां चार मई को वह सिरसी, सागरा, बेलेहोन्नुरू, बेलूर और होनाल्ली की जनसभाओं को संबोधित करने के बाद वहीं के हीरकेल मठ में रात्रि विश्राम करेंगे। शुक्रवार को हलियाला, मुधोल, टेरडाल और धारवाड़ में उनकी सभाएं हैं। धारवाड़ में रात्रि विश्राम के बाद शनिवार के सेदाम और मालकी में सभा कर वह लखनऊ लौट आएंगे। 

कर्नाटक विधानसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश भाजपा के कई पदाधिकारी चुनाव प्रबंधन के लिए पहुंच गए हैं, जबकि योगी सरकार के दो मंत्री वहां पहले से जमे हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और प्रदेश अध्यक्ष डॉ. महेंद्र नाथ पांडेय का भी वहां जाने का कार्यक्रम है।  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पहले चरण में तीन और चार मई को कर्नाटक में चुनाव प्रचार करेंगे। स्वतंत्र प्रभार के परिवहन राज्य मंत्री स्वतंत्र देव सिंह और ग्राम्य विकास राज्य मंत्री डॉ. महेंद्र सिंह वहां चुनाव प्रचार में सक्रिय हैं।

संगठन में लंबे समय तक कार्य करने वाले इन दोनों मंत्रियों ने गुजरात चुनाव में भी जमकर प्रचार किया था। महेंद्र सिंह तो असम में विधानसभा चुनाव के दौरान वहां के प्रभारी थे। इनके अलावा प्रदेश के चुनावी गतिविधियों में सक्रिय भूमिका निभाने वाले प्रदेश उपाध्यक्ष जेपीएस राठौर को विशेष रूप से वहां भेजा गया है। जेपीएस राठौर विधानसभा, निकाय चुनाव और अन्य चुनावों में भी चुनाव प्रबंधन प्रभारी की भूमिका निभाते रहे हैं। राठौर के अलावा प्रदेश उपाध्यक्ष पुरुषोत्तम खंडेलवाल, प्रदेश महामंत्री सलिल विश्नोई तथा प्रदेश मंत्री सुब्रत पाठक भी वहां भेजे गये हैं।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. महेंद्र नाथ पांडेय का कहना है कि ये पदाधिकारी कर्नाटक चुनाव में वहां के महत्वपूर्ण कार्यों को संपादित करेंगे और जैसे उत्तर प्रदेश के चुनाव में इनके अनुभव काम आए वैसे ही इनकी भूमिका कर्नाटक में भी रहेगी। उत्तर प्रदेश भाजपा के इन चार पदाधिकारियों को चुनावी जनसभा आयोजित कराने से लेकर जनसंपर्क अभियान की भी रूपरेखा तैयार करने की जिम्मेदारी है। जेपीएस राठौर ने बताया कि कर्नाटक में भाजपा की लहर है और आम मतदाता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नीतियों में भरोसा जता रहा है। 

Loading...
E-Paper